DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिवसेना-भाजपा में मुंबई के लिए सीईओ पर विवाद

शिवसेना-भाजपा में मुंबई के लिए सीईओ पर विवाद

शिवसेना ने मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस के उस प्रस्ताव पर कड़ी आपत्ति जताई जिसमें मुंबई के लिए मुख्य कार्यकारी अधिकारी की नियुक्ति की जानी है। पार्टी का आरोप है कि यह कदम भाजपा ने महाराष्ट्र से इस महानगर को अलग करने के अपने एजेंडे को बढ़ाने के लिए किया है।

इसके जवाब में भाजपा ने अपने पूर्व सहयोगी के रूख को महानगर के विकास के प्रति वैर करार दिया है। शिवसेना के सांसद राहुल शेवाले ने बताया कि जब फडणवीस मुंबई के लिए सीईओ पद बनाने की बात करते हैं तो लगता है कि वे मुंबई को शेष राज्य से अलग करना चाहते हैं । विदर्भ पर उनका इसी तरह का विचार है । हम इसका विरोध करेंगे ।

फडणवीस ने कल कहा था कि अतिरिक्त मुख्य सचिव स्तर के किसी अधिकारी को सीईओ नियुक्त किया जाएगा जो मुंबई में काम कर रही 16 एजेंसियों के बीच समन्वय करेगा ।

दक्षिण मध्य मुंबई से सांसद शेवाले ने कहा कि मुख्यमंत्री निगम आयुक्तों की नियुक्ति करते हैं । अगर उन्हें अपने नियुक्तयों में विश्वास होता तो वह सीईओ पद बनाने के बारे में बात नहीं करते । अगर वह अपनी योजना के साथ आगे बढ़ते हैं तो प्रशासन चलाने की उनकी क्षमता पर सवाल खड़े होंगे ।

आरोपों का जवाब देते हुए भाजपा ने कहा कि प्रस्ताव का उददेश्य मुंबई को अलग करना नहीं है । नगर भाजपा अध्यक्ष आशीष शेलार ने कहा कि शिवसेना का रुख मुंबई के विकास के खिलाफ है ।

बहन्मुंबई नगर निगम के अलावा महानगर में मुंबई महानगर क्षेत्रीय विकास प्राधिकरण भी है जो कुछ इलाकों के लिए विशेष योजनाएं बनाने वाला प्राधिकरण है । इसके अलावा महाराष्ट्र आवास क्षेत्रीय विकास प्राधिकरण, झुग्गी पुनर्वास प्राधिकरण, रेलवे एवं मुंबई बंदरगाह ट्रस्ट तथा अन्य एजेंसियां हैं ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिवसेना-भाजपा में मुंबई के लिए सीईओ पर विवाद