DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मतदान से ही बदलेगी राज्य की तकदीर और तसवीर

मतदान को त्योहार की तरह लें। वोट करके ही राज्य की तकदीर और तसवीर बदली जा सकती है। 14 वर्षों में राज्य में अस्थिर सरकार रही। इसके कारण यहां विकास रुक गया। विकास की दौड़ में दूसरे राज्य आगे निकल गए और हम देखते रह गए। अपने राज्य के लिए आगे आएं और मतदान करें। खासकर युवाओं को इसमें अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी होगी। युवा आगे आएगा तभी कोई मुहिम सफल होगी। हाल ही के दिनों में जिन राज्यों में मतदान का प्रतिशत बढ़ा है, वहां स्थिर सरकार बनी हैं। विकास के लिए पहली जरूरत है स्थिर सरकार। चुनाव के दिन पहले मतदान करना है फिर जलपान। अगर चूक गए तो फिर अस्थिर सरकार का सामना करना पड़ेगा और पछतावा होगा।

सिर्फ टीवी पर बैठ कर मतदान की खबरें देखने से कुछ नहीं होगा। घरों से बाहर निकलें और मताधिकार का प्रयोग करें। इतना ही नहीं अपने परिचितों, पड़ोसियों को भी मतदान करने के लिए प्रेरित करें। एक-एक वोट की ताकत आपके और आपके राज्य के सपने को पूरे करेगी। अच्छी और स्थायी सरकार आपको वो सब दे सकती है, जिसकी आप उम्मीद करते हैं। मतदान से वंचित होने पर सही जनप्रतिनिधि का चुनाव नहीं हो पाएगा। फिर हम पांच वर्ष के लिए रोएंगे।
डॉ हरमिंदर बीर सिंह (शिक्षक, डोरंडा कॉलेज)
प्रोफाइल
- डॉ हरमिंदर बीर सिंह डोरंडा कॉलेज में 1981 से कॉमर्स के शिक्षक हैं।
- शिक्षक से हटकर उनकी पहचान एक समाजसेवी के रूप में भी है।
- रांची में 1952 में जन्मे सिंह बहुत से सामाजिक संगठनों से जुड़े हैं।
- इन्हें 2008 में झारखंड रत्न और 2013 में झारखंड सद्भावना पुरस्कार भी मिल चुका है।
- इनकी स्कूली शिक्षा सेंट जॉन्स स्कूल और मारवाड़ी स्कूल से हुई है।
- सेंट जेवियर कॉलेज से इन्होंने स्नातक और रांची विवि से एमकॉम किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मतदान से ही बदलेगी राज्य की तकदीर और तसवीर