DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोदी की वाराणसी यात्रा की पल-पल की रिपोर्ट

मोदी की वाराणसी यात्रा की पल-पल की रिपोर्ट

दोपहर 4 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय जनसंपर्क कार्यालय रवींद्रपुरी पहुंचे। यहां जनता से मिलेंगे। खासतौर से उन लोगों की बात सुनेंगे जिन्होंने पूर्व में कोई आवेदन वहां दिया होगा।

जयापुर 12:45 बजे प्रधानमंत्री बोले- सरकारी खजाने से नहीं समाज की शक्ति से करेंगे वाराणसी का विकास।

जयापुर 12:42 बजे उन्होंने गांव की सफाई पर जोर दिया और कहा कि संकल्प लें कि कोई भी बच्चा हाथ धोए बगैर खाना न खाये। मोदी ने कहा कि बेटी के जन्म पर उत्सव मनाएं।

जयापुर 12:40 बजे समाज की शक्ति से करें गांव का विकास : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसद आदर्श गांव योजना के लिए चयनित जयापुर में आह्वान किया कि अपनी माटी की ताकत को पहचानें और उसका उपयोग करें। गांव का जन्मदिन मनाएं। इस वृद्धों का सम्मान करें। जो लोग कमाने गांव से बाहर चले गए हैं, उन्हें इस दिन जरूर बुलाएं। ऐसे लोग जब गांव की जरूरतें देखेंगे तो मदद के लिए आगे आएंगे। फिर सरकार पर निर्भरता कम होगी। अपनी, समाज की शक्ति से गांव का विकास किया जाएगा।

जयापुर 12:25 बजे मोदी ने कहा कि कोई भी सांसद गांव गोद नहीं ले रहा बल्कि गांव अपने सांसद को गोद ले रहे हैं। प्रधानमंत्री ने भावनात्मक वक्तव्य देते हुए जयापुर के लोगों से अपील की कि वह अपने सांसद (मोदी) को गोद लें और सिखाए कि कैसे गांवों का विकास हो सकता है।

जयापुर 12:20 बजे सांसद आदर्श गांव योजना के लिए जयापुर को क्यों चुना, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया खुलासा। कहा- जब मुझे भाजपा ने वाराणसी सीट से चुनाव लड़ने के लिए चुना, तभी जयापुर में आग लगने से पांच लोगों की मौत की खबर आई। मैंने गांव में लोगों से बात की। अफसर और पार्टी कार्यकर्ताओं से सहयोग करने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री ने कहा- संकट की घड़ी में बना संबंध चिरंजीवी होता है।

जयापुर 12:15 बजे जयापुर गांव की प्रधान दुर्गावती देवी ने पीएम मोदी का स्वागत किया। उस समय सभास्थल पर तालियां बज उठीं जब माइक नीचे होने के कारण दुर्गावती की आवाज धीमी आ रही थी। पीएम तत्काल कुर्सी से उठे और पोडियम के पास पहुंचकर माइक को थोड़ा नीचे किया। इसके बाद प्रधान की आवाज स्पष्ट आने लगी।

जयापुर 12 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने गोद लिये गांव जयापुर पहुंचे। मंच पर लगे पं. दीनदयाल उपाध्याय और श्यामाप्रसाद मुखर्जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। गांव की बेटियों ने तिलक लगाकर पीएम का स्वागत किया। मंच पर क्षेत्रीय विधायक और यूपी के लोकनिर्माण राज्यममंत्री सुरेंद्र पटेल भी मौजूद हैं।photo1

11:50 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने गोद लिये गांव जयापुर के लिए हेलीकॉप्टर से रवाना।

लालपुर 11:45 बजे पीएम ने कहा कि मैं उन राजनेताओं में नहीं हूं जो चुनावों में घोषणा करने के बाद भूल जाते हैं। मैं उतना ही कहता हूं जितना करने की ताकत रखता हूं। कुछ लोग मेरे आने से पहले यह अनुमान लगा रहे थे कि मोदी तमाम घोषणाएं करेंगे लेकिन मैं बनारस को बताना चाहता हूं कि जैसे-जैसे काम करूंगा, बताता रहूंगा।

लालपुर 11:44 बजे पीएम ने सहकारी बैंकों को फिर जिंदा करने के लिए अपनी घोषणा की जानकारी देने के बाद राज्य सरकार को हिदायत दी कि वह इस मामले में राजनीति से ऊपर उठकर सोचे और काम करे। मोदी ने अन्य विपक्षी दलों से आग्रह किया कि वह पूर्वी उत्तर प्रदेश के विकास के लिए घोषित योजनाओं को पूरा करने और इस इलाके की बेहतरी के लिए सियासत से ऊपर उठकर अपना योगदान करें।

लालपुर 11:42 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में राज्य सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि मैं चाहता था कि व्यापार सेवा केंद्र शहर के पास हो लेकिन राज्य सरकार से मांगी गई जगह नहीं मिल पाई। विवशता में शहर से दूर केंद्र स्थापित करना पड़ रहा है। फिर भी बनारस आनेवाला हर देशी-विदेशी पर्यटक इस स्थान पहुंचे बगैर नहीं लौटेगा।

लालपुर 11:40 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत बुनकर लाभार्थियों को उनके लाभ की रकम सीधे उनके खातों में भेजने की व्यवस्था की है। इससे किसी प्रकार की बाधा, भ्रष्टाचार रुकेगा और बुनकरों को पैसे के लिए चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा।

लालपुर 11:35 बजे प्रधानमंत्री ने बड़ा लालपुर में व्यापार सेवा केंद्र के शिलान्यास के मौके पर बनारसी साड़ी के गौरव की याद दिलाई और कहा कि इतना बड़ा मार्केट किसी और उत्पाद का नहीं है। आने वाले वर्षों में 20 करोड़ बेटियों की शादी होनी है और हर मां अपनी बेटी को बनारसी साड़ी का तोहफा देना चाहती है। यदि बुनकर और साड़ी उद्योग नई डिजाइन व गुणवत्ता युक्त उत्पाद पर ध्यान दें तो इसकी प्रगति तेजी से हो सकती है। मोदी ने समय के साथ बदलने की जरूरत पर बल दिया और कहा कि बुनकरों को अपने स्थान पर नई ट्रेनिंग दी जाय तो उनका भी विकास होगा।

लालपुर 11:30 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वी उत्तर प्रदेश के 16 जिलों के बंद पड़े सहकारी बैंकों को जिंदा करने के लिए 2375 करोड़ रुपये की मदद की घोषणा की। इसमें वाराणसी, इलाहाबाद, आजमगढ़, गाजीपुर, बलिया, जौनपुर, सुल्तानपुर, हरदोई, सीतापुर, फतेहपुर, फैजाबाद आदि के बैंक शामिल हैं।

लालपुर 11:15 बजे प्रधानमंत्री ने बड़ा लालपुर में शुरू किया भाषण। सुरक्षा के कड़े प्रबंध पर चुटकी ली। कहा कार्यक्रम स्थल बंद कर दिया है। उन्होंने सुरक्षाकर्मियों को बंद परदे खोलने को कहा। ताकि हवा आ सके। पीएम के इस अंदाज पर हर-हर महादेव और तालियों से स्वागत किया।

लालपुर 11 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ालालपुर में व्यापार सेवा केंद्र का शिलान्यास किया। 50 करोड़ रुपये तत्काल खर्च होंगे। डेढ़-दो साल में 147 करोड़ रुपये व्यय होंगे। कपड़ा मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने मंच से प्रधानमंत्री का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि इस केंद्र से बुनकरों को काफी लाभ मिलेगा।

10:45 बजे बड़ालालपुर में मंच पर पहुंचे प्रधानमंत्री। हर-हर महादेव से स्वागत।

10:40 बजे बड़ा लालपुर में प्रधानमंत्री ने देखी प्रदर्शनी। हर स्टाल पर रुककर जानकारी ली। इसके बाद बुनकरों के लिए बने फैसिलिटी सेंटर का शिलान्यास करेंगे।

10 बजे  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वाराणसी पहुंच गए। राज्यपाल और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उनका स्वागत किया। सरकार का नेतृत्व संभालने के बाद मोदी की अपने लोकसभा क्षेत्र की यह पहली यात्रा है।  अब यहां से मोदी थोड़ी देर में लालपुर के लिए रवाना होंगे।

पूरी वाराणसी मोदी के स्वागत के लिए सजाई गई है। ढोल नगाड़ों की थाप पर स्वागत की तैयारी की गई। जयापुर गांव में अद्भुत उत्साह है, जश्न का माहौल है।
   
प्रधानमंत्री की यात्रा को देखते हुए प्राचीन मंदिरों की नगरी में तैयारियां जोरों पर हैं और सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। मोदी के यहां बुनकरों के लिए एक व्यापार सुविधा केंद्र की आधारशिला रखने और साथ ही अपनी सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत एक गांव को गोद लेने की उम्मीद है।
    
पुलिस महानिरीक्षक (जन शिकायत) अशोक जैन के अनुसार उत्तर प्रदेश के पुलिस अधीक्षक रैंक के 12 अधिकारी, 18 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, 20 पुलिस उपाधीक्षक, 135 उप निरीक्षक और प्रोविंशियल आर्म्ड कांस्टेबुलरी के 1000 से अधिक कर्मी तैनात किए गए हैं।
   
उत्तर प्रदेश पुलिस के अधिकारी और कर्मी प्रधानमंत्री की सुरक्षा का दायित्व संभालने वाले विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) के साथ सहयोग करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी का दौरा 24 घंटे से कुछ ज्यादा का हो सकता है। इस दौरे ने शहर के लोगों में बेहतर भविष्य की उम्मीदें बढ़ा दी हैं जिन्हें आधारभूत संरचना और बुनियादी सुविधाओं  कमी का सामना करना पड़ रहा है।
   
प्रधानमंत्री मोदी ने जब से वाराणसी लोकसभा सीट बरकरार रखने का फैसला किया है, तब से दुनिया के प्राचीनतम शहरों में से एक वाराणसी लगातार चर्चा में है। मोदी को यहां 3.7 लाख वोटों के बड़े अंतर से जीत मिली थी। मोदी ने अपने गहराज्य गुजरात की वडोदरा सीट छोड़ी थी जहां उन्हें इससे भी बड़े अंतर (5.7 लाख वोट) से जीत मिली थी।
   
इस साल हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा की जीत के तुरंत बाद मोदी ने वाराणसी का दौरा किया था और काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा अर्चना करने के साथ ही गंगा आरती में हिस्सा लिया था। अपने इस दौरे में प्रधानमंत्री द्वारा एक व्यापार सुविधा केंद्र एवं शिल्प संग्रहालय की आधारशिला रखने की उम्मीद है, जिसकी घोषणा सरकार ने इस साल जून में पेश किए गए अपने पहले आम बजट में की थी।
   
परियोजना का उद्देश्य बुनकरों का उत्थान करना है। मोदी ने अपने चुनावी भाषणों में बुनकरों की दुर्दशा का मुद्दा उठाया था और उनकी बेहतरी के लिए कदम उठाने का वादा किया था। वह यहां एक पॉवरलूम केन्द्र का उद्घाटन भी करेंगे।
   
पार्टी सूत्रों ने बताया कि मोदी वाराणसी के विकास की योजनाओं पर चर्चा करेंगे और इस बारे में दायित्व भी सौंपेंगे। मोदी के लोकसभा क्षेत्र वाराणसी और पूर्वांचल क्षेत्र के मीडिया प्रभारी संजय भारद्वाज ने कहा कि प्रधानमंत्री जयापुर गांव जायेंगे और वहां लोगों को संबोधित करेंगे तथा सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गांव को गोद लेने की घोषणा भी कर सकते हैं।
   
प्रधानमंत्री के पहले दौरे को लेकर स्थानीय भाजपा कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह है जहां से मोदी भारी मतों से जीते हैं। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री ने पूर्ववर्ती संप्रग सरकार पर लगे भ्रष्टाचार के विभिन्न आरोपों की तरफ इशारा करते हुए देश को स्कैम इंडिया से स्किल इंडिया में बदलने का इरादा जताया था तथा उद्यमिता को बढ़ावा देने की जरूरत पर जोर दिया था। 
   
मोदी सार्वजनिक निजी भागीदारी मॉडल पर आधारित एक कौशल विकास केंद्र का उद्घाटन कर सकते हैं। भारद्वाज ने कहा कि मोदी अपनी यात्रा के दौरान कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। प्रधानमंत्री रात को गेस्ट हाउस में रुकेंगे।
   
इससे पहले प्रधानमंत्री का 14 और 15 अक्तूबर को वाराणसी आने का कार्यक्रम था लेकिन चक्रवात हुदहुद के कारण इसे टाल दिया गया था। बहरहाल, बीएचयू में प्रधानमंत्री के हाथों ट्रौमा सेंटर के उद्घाटन का कार्यक्रम विश्वविद्यालय प्रशासन के आग्रह पर टाल दिया गया है क्योंकि अभी वहां काम बाकी है।
   
आईएमएस.बीएचयू के निदेशक राणा गोपाल सिंह ने कहा, सेंटर पूरी तरह से तैयार नहीं है। इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री के अगले दौरे पर किया जायेगा जब यह पूरी तरह से तैयार हो जाएगा।

बुनकरों पर मेहरबान मोदी जयापुर गांव को लेंगे गोद
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दो दिवसीय यात्रा में 25 घंटे वाराणसी में बिताएंगे। वह 7 नवम्बर को बाबतपुर एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे। दूसरे दिन 8 नवम्बर को 10.35 बजे बाबतपुर एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। इस दौरान मोदी लालपुर में बुनकरों के लिए फैसिलिटी सेंटर का शिलान्यास, जयापुर गांव को गोद लेने की घोषणा के साथ ही बुनकरों, किसानों, कार्यकर्ताओं व प्रबुद्धजनो से सीधा संवाद करेंगे। 8 नवम्बर की सुबह 9.15 बजे प्रधानमंत्री आनन्दमयी अस्पताल व आश्रम जाएंगे। 20 मिनट वहां रुकने के बाद विजया तिराहे पर विवेकानन्द की प्रतिमा के अनावरण करेंगे। एक घंटे का कार्यक्रम रिजर्व रखा गया है। सूत्रों के अनुसार इस दौरान वह अस्सी घाट से स्वच्छ काशी अभियान की शुरुआत करेंगे।

प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा के चौकस इंतजाम किए हैं। कार्यक्रम के मुताबिक मोदी सबसे पहले दिन सात नवंबर की सुबह 10.10 बजे बुनकरों के लिए लालपुर में दो सौ करोड़ की लागत से प्रस्तावित ट्रेड फैसिलिटी सेंटर एवं क्राफ्ट म्यूजियम का शिलान्यास करने के बाद बुनकरों को संबोधित करेंगे। यहां से मोदी सीधे सांसद आदर्श गांव के रूप में चयनित जयापुर जाएंगे। वहां किसानों को संबोधित करने के बाद ग्रामीणों से मुलाकात करेंगे। दोपहर 1.35 बजे हेलीकॉप्टर से डीएलडब्ल्यू पहुंचेंगे। यहीं पर मोदी कार्यकर्ताओं के साथ ‘संवाद’ और ऑफिसर्स क्लब में रात्रि विश्रम करेंगे। देर शाम होटल गेटवे (ताज) में शहर के प्रबुद्धजनों के साथ आयोजित रात्रि भोज में शामिल होंगे।

दूसरे दिन 8 नवम्बर को भदैनी स्थित आनन्दमयी आश्रम ,अस्पताल एवं रवीन्द्रपुरी स्थित विवेकानन्द की प्रतिमा के अनावरण कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद बीएचयू स्थित हेलीपैड से बाबतपुर के लिए उड़ान भरेंगे। वहां से सीधे दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मोदी की वाराणसी यात्रा की पल-पल की रिपोर्ट