DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डब्लूएचओ के प्रशिक्षण सह सम्मेलन में भाग लेंगे डॉ. मजहर हुसैन

इबोला वायरस के बढ़ते प्रभाव और गया में अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट के कारण होने वाले खतरों के मद्देनजर गया के एक डॉक्टर इबोला की ट्रेनिंग के लिए जेनेवा जायेंगे। हाल ही में दिल्ली से प्रशिक्षण लेकर लौटे डॉ. मजहर हुसैन का चयन दिसम्बर में जेनेवा होनेवाली स्पेशल ट्रेनिंग के लिए किया गया है।
डॉ. मजहर ने बताया कि जेनेवा में डब्ल्यूएचओ द्वारा सेमिनार आयोजित किया गया है। इसमें बिहार के गिने-चुने चिकित्सक ही भाग लेंगे। उन्होंने बताया कि गया में अंतराष्ट्रीय स्थल होने के कारण एयरपोर्ट के पास एक आइसुलेशन सेन्टर बनाया जायेगा। इसके लिए जल्द ही केन्द्र से एक टीम आयेगी, जो स्थल का परीक्षण और सेन्टर के निर्माण को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक करेगी। रीजनल इंस्टीच्यूट ऑफ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन, नई दिल्ली में ‘प्रीपेयरनेस एंड रेसपॉन्स टू इबोला वायरस डिजिज’ विषय पर आयोजित सेमिनार के बारे में बताते हुए डॉ. मजहर ने कहा कि यहां इबोला के बारे में कई नई जानकारियां दी गई। उन्होंने बताया कि इबोला के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए प्रत्येक देश में इसके लिए विशेष सावधानी बरती जा रही है। गया में भी हज से लौटने वाले यात्राियों को देखते हुए एक मेडिकल टीम तैनात की गई है जिसमें वे खुद भी शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डब्लूएचओ के प्रशिक्षण सह सम्मेलन में भाग लेंगे डॉ. मजहर हुसैन