DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑनलाइन हिन्दी भी सिखाएगा केहिसं: गोयनका

केंद्रीय हिन्दी शिक्षण मंडल के उपाध्यक्ष डॉ. कमल किशोर गोयनका ने हिन्दुस्तान को बताया कि शासी परिषद की बैठक में कई अहम प्रस्तावों को हरी झंडी मिली है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने छात्र-छात्रओं की समस्या से संबधित पैकेट पर बैठक शुरू होते ही नजर डाली। बैठक में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हिन्दी के विस्तार पर चर्चा हुई। कई देशों ने इसके लिए प्रस्ताव दिए हैं। इसमें पहले चरण में नीदरलैंड, अमेरिका, इंग्लैंड और मॉरीशस में संस्थान हिन्दी का प्रशिक्षण देगा। परीक्षाए भी कराएगा। प्रशिक्षण लेने वाले विद्यार्थियों को केंद्रीय हिन्दी संस्थान परीक्षा पास करने पर प्रमाणपत्र देगा।

गोयनका ने बताया कि मास्को में हिन्दी की चेयर को फिर शुरू किया जाएगा। तकनीक का इस्तेमाल हिन्दी के विस्तार में किया जाएगा। इसी उद्देश्य से जल्द ही ऑनलाइन हिन्दी सिखाने के प्रोजेक्ट पर भी काम शुरू कर दिया जाएगा। देशभर में अगर कहीं क्षेत्रीय केंद्रों की जरूरत महसूस होती है तो वहां केंद्र भी खोले जाएंगे, ताकि देश में हिन्दी का विस्तार हो। स्मृति ईरानी ने छात्र-छात्रओं की मांग पर प्रवीण, पारंगत, निष्णात के पाठ्यक्रमों के प्रमाणपत्रों को अंग्रेजी में भी छपवाने और उन पर बीएड, एमएड, बीटीसी लिखवाने के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने 21 फरवरी को ‘मातृभाषा दिवस’ के रूप में मनाने की घोषणा की। संस्थान में इस दिन बड़ा समारोह आयोजित किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऑनलाइन हिन्दी भी सिखाएगा केहिसं: गोयनका