DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंदगी फैलाने पर सख्त कानून तैयार कर रही है राज्य सरकार

केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार से कहा है कि ऐसी व्यवस्था करें कि अगर सड़क पर किसी ने कूड़ा फेंका तो उसे मौके पर ही दण्ड देना पड़े। सरकार इस पर सख्त कानून बनाने की तैयारी कर रही है। केन्द्र ने शहरी क्षेत्र में सफाई के नियमों को कड़ाई से पालन कराने के भी निर्देश दिए हैं।  

गौरतलब है कि नगर विकास विभाग ने नगरों में स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए कूड़ा प्रबन्धन से लेकर घरों के सामने कूड़ा उठाने की व्यवस्था के प्रस्ताव बनाए हैं। इसमें यह भी प्रस्ताव बनाया गया था कि अगर कोई सड़क पर कूड़ा फेंके तो उस मकान मालिक अथवा दुकान मालिक से दंड वसूला जाए लेकिन नगर निकायों ने इस प्राविधान को लागू ही नहीं किया। अब केन्द्र के निर्देश के बाद राज्य सरकार इस मुद्दे पर फिर से सक्रिय हुई है।
इस समय  केन्द्र सरकार ने स्वच्छता अभियान को अपने प्रमुख एजेण्डे पर ले रखा है। केन्द्र ने कहा है कि शहरी क्षेत्रों में कूड़ा निस्तारण की उचित व्यवस्था भी की जाए ताकि पर्यावरण को बचाया जा सके। प्रदेश में सात महानगरों और करीब 66 नगरपालिकाओं में कूड़ा प्रबंधन का काम जेएनएनयूआरएम और अरबन इंटीगट्रेड डेवलपमेंट स्कीम फार स्माल एंड मीडियम टाउन्स (यूआईडीएसएसएमटी) के तहत चल रहा है।

कूड़ा प्रबंधन के क्षेत्र में काम कर रही संस्थाओं की रिपोर्ट के मुताबिक कूड़ा प्रबंधन के लिए इतने धन और जमीन की जरूरत ही नहीं है जितनी सरकारी एजेंसियां मांग कर रही हैं। उनका कहना है कि लखनऊ में अगले 25 साल की जनसंख्या को देखते हुए जब यहाँ की आबादी 60 लाख होगी, यहाँ केवल 36 एकड़ जमीन की जरूरत है। एक बार अवस्थापना के रूप में 13.52 करोड़ और आपरेशनल कास्ट के रूप में 10.48 करोड़ रुपए खर्च होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गंदगी फैलाने पर सख्त कानून तैयार कर रही है राज्य सरकार