DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गीतांजलि हत्याकांड: लाई डिटेक्टर टेस्ट हो चुका है आरोपी सीजेएम का

गीतांजलि हत्याकांड में आरोपी सीजेएम रवनीत गर्ग का नार्को टेस्ट होगा। इसके लिए उन्होंने अपनी सहमति दे दी है। इस मामले की सुनवाई अब 14 नवंबर को होगी। गीतांजति हत्या कांड की जांच सीबीआई कर रही है।

गीतांजली हत्याकांड मामले की सुनवाई बुधवार को सीबीआई कोर्ट पंचकुला में हुई। एडिशन सेशन जज भवना जैन की कोर्ट में आरोपी सीजेएम रवनीत गर्ग पेश हुए। गर्ग के वकील ने कोर्ट को उनकी सहमति की जानकारी दी। टेस्ट के लिए रवनीत गर्ग की सहमति के बाद उनके वकील विशाल गर्ग नरवाना ने कोर्ट के माध्यम से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभावों को लेकर जांच एजेंसी के एससी रैंक के अधिकारी से अंडर टेकिंग या एफिडेविट की मांग की है। वकील का कहना है कि नार्को टेस्ट से शरीरी पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे पहले कोर्ट ने आरोपी सीजेएम रवनीत गर्ग से नार्को टेस्ट के लिए सहमति मांगा था।

लाई डिटेक्टर टेस्ट किया जा चुका है-
सीजेएम रवनीत गर्ग का लाई डिटेक्टर टेस्ट पहले ही किया जा चुका है। इसके बाद कोर्ट ने नार्को टेस्ट के लिए रवनीत गर्ग से सहमति मागी थी। इसके लिए उन्होंने सहमति दे दी है।


क्या है मामला-
17 जुलाई 2013 की शाम को गुड़गांव कोर्ट में तत्तकालीन सीजेएम रवनीत गर्ग की पत्नी गीतांजलि का शव पुलिस लाइन पार्क में बरामद हुआ था। गीतांजिल की मौत गोली लगने से हुई थी और मौके से सीजेएम का लाइसेंसी रिवाल्वर बरामद हुई थी। पुलिस कमिश्नर ने आलोक मित्तल ने एसआईटी का गठन किया था। छह दिन की जांच में एसआईटी किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी। गीतांजलि के परिजनों के बढ़ते अविश्वास और आरोप के दबाव के बीच प्रदेश सरकार ने इस मामले की जांच को सीबीआई को सौप दिया था। बाद में जांच एजेसी ने इस मामले में पांच लाख रुपये का ईनाम रखा गया है।

घटना क्रम---
17 जुलाई-शाम पांच बजे 28 वर्षीय गीतांजली का शव पुलिस लाइंस में मिला। दो गोली चलने की बात सामने आई।
18 जुलाई-जांच के लिए एसआईटी गठित। पोस्टमार्टम में गीतांजलि को तीन गोलियां लगने की बात। सिर में भी चोट।
19 जुलाई- परिवार वालों की शिकायत पर सीजेएम रवनीत गर्ग पर हत्या का केस सिविल लाइंस में दजर्
20 जुलाई-पंचकुला में गीतांजलि के समर्थन में कैडल मार्च किया। एसआईटी जांच शुरू की।
21 जुलाई-सीजेएम पर हत्या के एफआईआर में दहेज, प्रताड़ना व अन्य की शिकायत का केस दजर्,एसआईटी ने मोबाइल,लैपटॉप किया जब्त।
22 जुलाई-वारदात स्थल से दो गोलियों के खोल बरामद,परिजनों से हुई पूछताछ।
23 जुलाई- जांच सीबीआई को देने का फैसला, एक खोल और बरामद

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गीतांजलि हत्याकांड: लाई डिटेक्टर टेस्ट हो चुका है आरोपी सीजेएम का