DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा के कई उम्मीदवारों पर उठ रही हैं उंगलियां

नारायण भोक्ता के अलावा भी भाजपा की सूची में कई उम्मीदवार हैं, जिनके चयन पर सवाल खड़े किये जा रहे हैं। टिकट बंटवारे के साथ ही ये सवाल उठे थे, लेकिन तब प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रवींद्र राय ने उन पर पर्दा डालने का प्रयास किया था। नारायण भोक्ता को पहले ही दिन राय ने क्लीन चिट दे दी थी।
नाला के प्रत्याशी सत्यानंद झा बाटुल, बाघमारा के ढुल्लू महतो, जमाताड़ा के वीरेंद्र मंडल और देवघर के नारायण दास पार्टी के अंदर और बाहर निशाने पर हैं। प्रदेश के बड़े नेता अब इन प्रत्याशियों के चयन में खुद की सहभागिता से पल्ला झाड़ रहे हैं।

बाटुल और बैद्यनाथ पर एक जैसे आरोप
भाजपा नेताओं का कहना है कि अगर महिला प्रकरण की वजह से बैद्यनाथ राम का टिकट काट दिया गया, तो वहीं मापदंड बाटुल के मामले में क्यों नहीं अपनाया गया। राम का मामला पुलिस या कोर्ट तक नहीं पहुंचा था। बाटुल का मामला तो सरकार से लेकर कोर्ट तक पहुंचा है।

भाजपा ही ढुल्लू को लेकर थी मुखर
छह माह पहले ढुल्लू महतो को लेकर भाजपा ही मुखर थीं। जेल में बंद महतो के खिलाफ भाजपा ने कड़ी टिप्पणी की थी। अब भाजपा ने उन्हें ही टिकट दे दिया है। रवींद्र राय का कहना था कि महतो पर सिर्फ सरकारी काम में बाधा डालने का आरोप है। उन्होंने यहां तक कहा कि पार्टी ने काफी छानबीन कर प्रत्याशियों को टिकट दिया गया है।

केस-मुकदमों से नहीं छूट रहा पीछा
वीरेंद्र मंडल और नारायण दास के खिलाफ मामले दर्ज होने की बात विपक्षी के साथ पार्टी वाले भी उछाल रहे हैं। दास से जुड़े मामले के कागजात भी बांटे जा रहे हैं। दास पर बीते 26 सितंबर को जसीडीह थाने में दस्तावेजों  में छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। पार्टी अपने स्तर पर भी इन दस्तावेजों की जांच करा रही है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भाजपा के कई उम्मीदवारों पर उठ रही हैं उंगलियां