DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मीरगंज में बच्चे की मौत के बाद आगजनी, रोड जाम

मीरगंज बाजार में आग से झुलसे बच्चे की इलाज के दौरान मौत हो जाने पर बुधवार को लोगों का गुस्सा पड़ा। तोड़फोड़ व आगजनी करने के बाद लोगों ने पूरे बाजार को बंद करा दिया। दक्षिण मोहल्ले के एक निजी अस्पताल में भी उत्पात मचाया गया। गुस्साए लोगों ने शव को हथुआ मोड़ पर रख सीवान-गोपालगंज मुख्य मार्ग जाम कर हंगामा किया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पूरे शहर में धारा 144 लगा दी। प्रशासन ने स्थिति नियंत्रण में होने का दावा किया है। पूरा बाजार पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है। देर शाम आईजी, डीआईजी, कमिश्नर भी मौके पर पहुंच गए हैं।

बताया गया कि मंगलवार को जुलूस के दौरान करतब दिखाते समय एक आग का गोला मीरगंज बाजार के दक्षिण मुहल्ला निवासी प्रमोद कुमार गुप्ता के दो साल के बेटे सुजीत कुमार पर आकर गिर गया। शरीर पर आग का गोला गिरने से बच्चे के शरीर में आग लग गई और वह बुरी तरह झुलस गया। उसका इलाज एक प्राइवेट अस्पताल में कराया गया, लेकिन हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने उसे रेफर कर दिया। शाम को उसकी मौत हो गई। यह खबर जैसे ही मीरगंज बाजार के लोगों को मिली, उन्होंने बाजार में तोड़फोड़ शुरू कर दी। प्राइवेट अस्पताल को भी निशाना बनाया गया,  लेकिन मौके पर डीएम कृष्ण मोहन और एसपी अनिल कुमार सिंह ने पहुंचकर लोगों को समझाकर शांत कराया। अगले दिन सुबह जैसे ही बच्चे के परिजन शव दफनाने के लिए जाने वाले थे कि अचानक कुछ लोगों ने बवाल करना शुरू कर दिया। इस मामले में डीएम ने कहा कि स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। तनाव के मद्देनजर फोर्स व मजिस्ट्रेट की तैनाती कर दी गई है। वहीं एसपी अनिल कुमार सिंह ने कहा कि पुलिस की तैनाती भारी संख्या में की गई है। उपद्रवी तत्वों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मीरगंज में बच्चे की मौत के बाद आगजनी, रोड जाम