DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पांच दिनों से बंद है झारखंड लोकल सेल

सीसीएल की झारखंड उत्खनन परियोजना का लोकल सेल पिछले पांच दिनों से बंद है। जिसकी वजह से लोकल सेल पर आश्रित इचाकडीह, पचमो, लइयो उतरी व दक्षिणी पंचायत के लगभग तीन हजार मजदूरों के बीच रोजी-रोटी की समस्या उत्पन्न हो गई है। इस संबंध में परियोजना के मैनेजर एमके पाण्डेय का कहना है कि स्थानीय ट्रक ऑनर एशोसियेशन प्रबंधन के द्वारा निर्धारित कोटा को नहीं मानते हुए लोकल ट्रकों के लिए विशेष कोटा की मांग कर रहा है।

जिसे देना प्रबंधन के लिए संभव नहीं है, जिसकी वजह से सेल बंद है। वहीं इस संबंध में ट्रक ऑनर एशोसिएशन के सचिव मदन महतो का कहना है कि हमलोग पीएलसी कोयला ढुलाई में भाड़ा बढ़ोतरी की मांग किये हैं। क्योंकि बाजार में बिकने वाले छह हजार रुपए प्रति टन कोयला को प्रबंधन पीएलसी के तहत मात्र 15 सौ रुपए प्रति टन दे रही है। जिसकी वजह से लोकल सेल बंद है। वहीं सूत्रों की मानें तो स्थानीय दो पेलोडर ऑनर व कॉपरेटिव के द्वारा चलने वाला पेलोडर लोडिंग विवाद को लेकर लोकल सेल बंद है।

बहरहाल मामला जो भी हो, लेकिन इस लड़ाई में बेचारे गरीब ग्रामीणों के घरों की अर्थिक स्थिति बिगड़ती जा रही है, जिसकी चिंता शायद किसी को नहीं है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पांच दिनों से बंद है झारखंड लोकल सेल