DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनसीआर की प्रॉपर्टी में सबसे ज्यादा धोखाधड़ी

दिल्ली-एनसीआर में  पिछले कुछ सालों के दौरान आवासीय योजनाओं के तहत तेजी से इमारतों का निर्माण हुआ। लेकिन कुछ ऐसी ही तेजी इनमें फ्लैट पाने वाले उपभोक्ताओं के साथ धोखाधड़ी के मामलों में भी आई है। लोग ऐसे बिल्डर के खिलाफ कार्रवाई के लिए उपभोक्ता सहायता केंद्रों में गुहार लगा रहे हैं।

भारतीय लोक प्रशासन संस्थान की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले कुछ माह में रियल एस्टेट से संबंधित शिकायतें बढ़ी हैं। उपभोक्ता सहायता केद्रों पर आने वाली शिकायतों में 78% रियल  एस्टेट, ऑटोमोबाइल, इंश्योरेंस और बिजली से जुड़ी होती हैं। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय की राष्ट्रीय उपभोक्ता हेल्पलाइन का जिम्मा संभाल रहे आईआईपीए के आंकड़ों से इसकी पुष्टि हुई है।

इन आंकड़ों के मुताबिक उपभोक्ता हर माह रियल एस्टेट में लगभग 27 करोड़ रुपये के नुकसान से संबंधित शिकायतें भेजते हैं। इनमें सबसे ज्यादा शिकायतें दिल्ली से आती हैं। उपभोक्ता मंत्रालय के एक अधिकारी के अनुसार, ज्यादातर शिकायतें रियल एस्टेट की होती है। ऐसी शिकायतें भी सबसे ज्यादा दिल्ली और उसके आस-पास के इलाकों से आती हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एनसीआर की प्रॉपर्टी में सबसे ज्यादा धोखाधड़ी