DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

10 साल बाद दिनेश उरांव पर लगाया दांव

गुमला। 10 साल बाद भाजपा ने सिसई के पूर्व विधायक दिनेश उरांव पर एक बार फिर विश्वास जताते हुए प्रत्याशी बनाया है। 2004 में पार्टी के सीटिंग विधायक दिनेश उरांव का टिकट काट दिया गया था। तब समीर उरांव भाजपा से उम्मीदवार बने और जीत दर्ज कराई थी। वहीं, शिवशंकर उरांव को गुमला विस से भाजपा का टिकट मिला है। पिछले विधानसभा चुनाव में सिसई में कांग्रेस की गीताश्री उरांव से पराजित समीर उरांव को इस बार विशुनपुर से भाजपा ने प्रत्याशी बनाया है। विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 25 नवंबर को गुमला और विशुनपुर में वोटिंग होगी। इन दोनों विस में नामांकन के आखिरी दिन 5 नवंबर को गुमला विस से भाजपा प्रत्याशी के रूप में शिवशंकर उरांव और विशुनपुर से समीर उरांव अपना पर्चा भरेंगे।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:10 साल बाद दिनेश उरांव पर लगाया दांव