DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उपायुक्त ने मानेसर का किया निरीक्षण, कूड़ा देख खुद ही लगाया झाडू

स्वच्छ हरियाणा स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत उपायुक्त शेखर विद्यार्थी खुद भी विभिन्न स्थानों पर निरीक्षण कर स्वच्छता अभियान का जाएजा ले रहे हैं। उपायुक्त के निरीक्षण की पूर्व सूचना के बाद भी मानेसर में पहुंचे शेखर विद्यार्थी को निराशा मिली। कूड़े ढेर देख नाराजगी का भाव चेहरे पर दिखा लेकिन उसे जब्त करते हुए खुद झाडू मंगाई और खुद ही जुट गए सफाई अभियान में। उपायुक्त के रुख को देख प्रशासनिक अधिकारी और दूसरे ग्रामीण भी आगे आए। देखते ही देखते वृद्धाश्रम वाली गली साफ हो गई। बंद नालियां और उनमें खड़ा गंदा पानी भी प्रवाहित होने लगा।

रविवार को ही उपायुक्त शेखर विद्यार्थी ने घोषणा कर दी थी कि वे मानेसर का निरीक्षण सोमवार को करेंगे। लिहाजा रविवार की शाम से ही मानेसर में साफ सफाई का अभियान शुरू हो गया था। लेकिन जब विद्यार्थी गांव का जाएजा लेने लगे तो उन्होंने उनकी नजर सड़कों पर पड़े कूड़े के ढेर पर पड़ ही गई। उपायुक्त के इस कदम से अधिनस्थ अधिकारी असहज दिखे। उपायुक्त के साथ अतिरिक्त उपायुक्त पुष्पेंद्र सिंह चौहान, गुड़गांव उतरी के एसडीएम ओम प्रकाश, गुड़गांव के खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी रामफल, मानेसर गांव के सरपंच धर्मवीर, नंबरदार कंवर, जिला परिषद् के पार्षद अजीत और ग्राम पंचायत के पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

ग्रामीणों से की अपील, स्वच्छता अभियान के लिए आए आगे
उपायुक्त ने ग्रामीणों से अपील किया कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के इस अभियान को सफल बनाने के लिए आगे आए। इस अभियान की सफलता से उनकी जिंदगी प्रभावित होगी। इसे सिर्फ सात दिन का अभियान नहीं बल्कि रोजमर्रा की जिंदगी में शामिल करे। उन्होंने कहा कि आप जिस कचरे को घर से साफ कर बाहर सड़क पर फेंकते हैं, वही आप के पैरों से लग पुन: आप के घर में पहुंच जाता है। अपने घर की सफाई करने के बाद कचरे को इक्ट्ठा करके डस्टबिन में ही डाले।

बढ़ाई जाएगी सफाईकर्मियों की संख्या
उपायुक्त को गांव के सरपंच धर्मवीर ने बताया कि गांव बड़ा है। आबादी के हिसाब से सफाई कर्मचारी कम है। उपायुक्त ने कहा कि सफाई कर्मचारियांे के अलग-अलग गली में दिन निर्धारित किए जा सकते है। इसके अलावा लोगो द्वारा घरो में इक्ट्ठा किए गए कूड़े को एक स्थान पर डालने की व्यवस्था भी की जा सकती है।
सुनी समस्याएं
ग्रामीणों ने उपायुक्त का अपनी समस्याएं भी बताई जिस पर उन्होंने खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी गुड़गांव रामफल को समस्याओं की सूची और संभावित समाधान की ब्यौरा तैयार करने का आदेश दिया। ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि उनकी समस्याओं का समाधान जल्द कराया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उपायुक्त ने मानेसर का किया निरीक्षण, कूड़ा देख खुद ही लगाया झाडू