DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीएलएफआई ने बड़ी घटना कर गुमला पुलिस को दी जोरदार चुनौती

चुनाव के पूर्व गुमला की धरती को रक्तरंजित कर पीएलएफआई उग्रवादियों ने गुमला पुलिस के समक्ष चुनौती खड़ा कर दिया है। और उग्रवादियों द्वारा कामडारा की इलाके में अब तक की सबसे बड़ी घटना को अंजाम देकर सात लोगों की गोली मारकर हत्या कर दिया गया। तीन नवंबर की शाम में कामडारा थाना क्षेत्र की रेड़वा चंगाबारी पथ पर मुर्गी कोना के पास उग्रवादियों ने एंबुस कर सात लोगों को मार डाला।

मारे गए सात में तीन लोग शांति सेना के सदस्य थे। और चार मजदूर थे। घटना स्थल पर शवों की स्थिति काफी भयावह थी। संभावना बनी है कि सब जोनल कमांडर चरका मुंडा के हत्या के प्रतिशोध में उग्रवादियों ने यह घटना को अंजाम दिया गया है। चरका मुंडा के हत्या के बाद बौखलाए उग्रवादी बदला लेने की फिराक में थे। पूर्व से ही पीएलएफाई के टारगेट पर रहे शांति सेना के समर्थक अपनी सुरक्षा के प्रति चूक के कारण अपनी जान गंवा बैठे।

बानपुर से चंगाबारी के रास्ते रेड़वा जाने वाली कच्ची पथ जो जंगल व पहाड़ों के बीच से गुजरती है। इसी रास्ते से शांति सेना के सदस्य अपनी सफेद मार्शल जीप संख्या जेएच 07 ए 0881 पर सवार होकर आना जाना करते थे। घटना की शाम रेड़वा चुंवा टोली से इसी वाहन पर सवार होकर सभी घर लौट रहे थे। और रास्तें में घात लगाए बैठे उग्रवादियों ने सातों की हत्या कर दी। घटना स्थल पर बिखरे खून के धब्बे और चट्टानों पर गोली के निशान बंया कर रहे है कि सात हत्याओं से कामडारा दहल कर गया है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पीएलएफआई ने बड़ी घटना कर गुमला पुलिस को दी जोरदार चुनौती