DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्यमंत्री ने भाजपा और विरोधियों पर जमकर बोला हमला

पुलिस महकमे के नवनिर्मित सौ भवनों का लोकार्पण करने के दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मंगलवार को कुछ अलग अंदाज में दिखाई दिए। मौका तो पुलिस को सुविधाएं और संसाधन देने का था सो उन्होंने दिया भी लेकिन भाजपा समेत विरोधियों को जमकर आड़े हाथ भी  लिया। पुलिस अधिकारियों को सतर्क करते हुए बोले-‘मुझे कहने में गुरेज नहीं भाजपा की जेहनियत खराब है। पुलिस को भी उससे जूझना होगा।’

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी को घातक बताते हुए कहा कि भाजपा ने माहौल खराब कर दिया। चाहे विधानसभा हो थाने हों या आफिस हो। हर कहीं माहौल खराब किया। भाजपा की सोच की खराब है। कभी लाउडस्पीकर पर लडा़ई तो कभी लव-जिहाद ले आए। विपक्ष ने कोई कसर नहीं छोड़ी। फिर भी पुलिस ने अच्छा काम किया है लेकिन फिर भी छवि सुधारने और जनता का और अधिक भरोसा जीतने की जरूरत है।


उन्होंने बदायूं की घटना को लेकर मीडिया को भी घेरा। बोले-‘ऐसी घटना थी, जिसने मुङो बहुत मशहूर कर दिया। संयुक्त राष्ट् के अलावा भी कई अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों ने बदायूं के बारे में पूछा। हम कहते रहे लेकिन मीडिया ने सुना नहीं। सीबीआई ने कहा तो मान रहे हैं। कभी-कभी मीडिया भी जरा से अपने फायदे के लिए ऐसा नुकसान कर देती है, जिसकी भरपाई आसान नहीं होती।


पीपीपी के जरिये लिया आड़े हाथ
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज ऐसा मौका है कि जब यहां ‘पीपीपी’ मौजूद हैं यानी पालिटीशियन, पुलिस और प्रेस लेकिन इसी के साथ चौथे पी यानी पब्लिक को नहीं भूलना चाहिए। उन्होंने कहा कि यहां ऐसे पुलिस अधिकारी मौजूद हैं, जो बावर्दी दुरुस्त होकर कभी नेता जी (पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ) के पैर छूते थे। बाद में उनके कार्यकर्ताओं और नेताओं का न जाने क्या-क्या हाल किया।


डीजीपी की बात प्रेस ने सुनी ही नहीं
मुख्यमंत्री ने बदायूं की घटना का  जिक्र करते हुए डीजीपी आनंद लाल बनर्जी की खूब तारीफ की। बोले-डीजीपी बदायूं की घटना पर मीडिया को सही बात बताना चाहते थे। तफ्तीश चल रही थी। डीजीपी ने कहा कि दुराचार नहीं हुआ लेकिन मीडिया ने सुनी ही नहीं। न जाने क्या-क्या गलत छपता रहा।


जब ठहाकों से गूंज उठी महफिल
मुख्यमंत्री ने भाषण में कई बार इशारों-इशारों में पुलिस अधिकारियों की खिंचाई भी की। हुआ यूं की पुलिस मुख्यालय इलाहाबाद के एडीजी डा.सूर्य कुमार शुक्ला सरकार द्वारा पुलिस के लिए किए गए कामों की जानकारी देते-देते कुछ ज्यादा ही तारीफ कर गए। उन्होंने कई बार मुख्यमंत्री को यशस्वी कहने के साथ बोले-ईश्वर करे वह कई सालों तक मुख्यमंत्री बने रहें। इस पर मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में उनकी खिंचाई की और मंत्री अहमद हसन की ओर इशारा करते हुए कहा कि एक पुलिस अधिकारी थे रिटायरमेंट के बाद नेता जी से जुड़ गए अब मंत्री हैं। आप श्री शुक्ला जी जल्दबाजी न करिए आपके रिटायरमेंट में तो अभी वक्त है। इतना कहते ही माहौल ठहाकों से गूंज उठा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुख्यमंत्री ने भाजपा और विरोधियों पर जमकर बोला हमला