DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चैपल का पलटवार, झूठ बोल रहे हैं सचिन तेंदुलकर

चैपल का पलटवार, झूठ बोल रहे हैं सचिन तेंदुलकर

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच ग्रेग चैपल ने आज सचिन तेंदुलकर पर पलटवार किया और इस स्टार बल्लेबाज के इस दावे को बकवास करार दिया कि उन्होंने वेस्टइंडीज में 2007 में हुए विश्व कप से कुछ महीने पहले उन्हें राहुल द्रविड़ से कप्तानी लेने का हैरान करने वाला सुझाव दिया था।

तेंदुलकर ने अपनी आत्मकथा 'प्लेइंग इट माइ वे' में लिखा है कि चैपल विश्व कप 2007 से कुछ महीने पहले उनके निवास पर आए और उन्होंने उन्हें द्रविड़ से कप्तानी लेने के लिये मनाने की कोशिश की थी। तेंदुलकर की इस किताब का गुरुवार को विमोचन किया जाएगा। चैपल ने हालांकि कहा कि वह इन दावों से स्तब्ध हैं। उन्होंने एक बयान में कहा कि हालांकि मैं जुबानी जंग में नहीं पड़ना चाहता, लेकिन मैं साफ कर देना चाहता हूं कि जब मैं भारतीय कोच था तब मैंने राहुल द्रविड़ के स्थान पर सचिन को कप्तान बनाने के बारे में कभी नहीं सोचा था।

चैपल ने कहा कि इसलिए किताब में जो दावे किये गये हैं, उन्हें पढ़कर मैं हैरान हूं। उन्होंने कहा कि उन वर्षों में मैं केवल एक बार सचिन के घर गया था और वह भी सचिन के चोट से उबरने के दौरान अपने फिजियो और सहायक कोच के साथ। किताब में किये गये दावे से कम से कम 12 महीने पहले वहां गया था। चैपल ने कहा कि उन्होंने तेंदुलकर के आवास पर खुशनुमा शाम का आनंद लिया और इस दौरान कप्तानी का मसला कभी चर्चा में नहीं आया। उन्होंने कहा कि हमने साथ में खुशनुमा शाम का आनंद लिया और कप्तानी का मसला उठा ही नहीं था।

किताब में तेंदुलकर ने लिखा है कि चैपल ने उनसे कहा कि वे दोनों मिलकर भारतीय क्रिकेट पर वर्षों तक नियंत्रण रख सकते हैं। इस दिग्गज बल्लेबाज ने अपनी आत्मकथा में लिखा है कि चैपल जब उनके निवास पर आए तो उन्होंने कहा, हम दोनों मिलकर वर्षों तक भारतीय क्रिकेट को नियंत्रित कर सकते हैं। इस दौरान चैपल ने पेशकश की कि द्रविड़ से कप्तानी लेने में वह मेरी मदद कर सकते हैं।

तेंदुलकर ने कहा कि इस सुझाव और चैपल के द्रविड़ के प्रति सम्मान नहीं दिखाने से वह हैरान थे। अपनी किताब में तेंदुलकर ने 2005 से 2007 के बीच राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के कोच रहे चैपल की कड़ी आलोचना करते हुए उन्हें रिंगमास्टर करार दिया जो खिलाडियों पर अपने विचार थोपता था और कभी इसकी परवाह नहीं करता था कि इससे खिलाड़ी सहज महसूस कर रहे हैं या नहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चैपल का पलटवार, झूठ बोल रहे हैं सचिन तेंदुलकर