DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जम्मू: सेना ने दिए युवकों की मौत की जांच के आदेश

जम्मू: सेना ने दिए युवकों की मौत की जांच के आदेश

सेना ने जम्मू एवं कश्मीर के बडगाम जिले में सोमवार शाम अपने जवानों की गोली से दो युवकों की मौत के मामले में जांच के आदेश दिए हैं। सेना ने दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही है।

सेना की ओर से मंगलवार को जारी बयान में कहा गया है कि सेना को युवकों की मौत पर दुख है। इस बात की जांच के आदेश दिए गए हैं कि आखिर किन परिस्थतियों में जवानों को गोली चलानी पड़ी। इस मामले में जो दोषी पाया जाएगा, उससे सख्ती से निपटा जाएगा।

श्रीनगर से 20 किलोमीटर दूर बडगाम जिले के चत्तरगाम गांव में 53 राष्ट्रीय रायफल्स के जवानों ने एक मारुति कार पर गोली चला दी थी, जिसमें फैसल यूसुफ भट्ट और मेहराजुद्दीन डार की मौत हो गई, जबकि शाकेर भट्ट और जाहिद नकाश घायल हो गए। युवक श्रीनगर जिले क नौगाम इलाके के रहने वाले थे।

सेना का कहना है कि मोबाइल व्हीकल चेक पोस्ट (एमवीसीपी) ने कार को रुकने का संकेत दिया था, लेकिन चालक ने कार नहीं रोकी। सेना को नौगाम-पुलवामा सड़क पर एक सफेद मारुति 800 कार में तीन नवंबर को आतंकवादियों की गतिविधियों के बारे में सूचना मिली थी, जिसके बाद इस मार्ग पर तीन एमवीसीपी को तैनात किया गया।

बयान में कहा गया है कि शाम करीब पांच बजे सफेद मारुति 800 कार पहली चौकी के पास पहुंची, जहां सुरक्षा कर्मियों ने कार को रोकने की कोशिश की, लेकिन यह नहीं रुकी। दूसरी चौकी पर भी कार नहीं रुकी। तीसरी चौकी पर कार ने इसे तोड़ने की कोशिश की, जिसके बाद जवानों ने गोली चलाई, जिसमें चार युवक घायल हो गए।

घायलों को सेना के अस्पताल ले जाया गया, जहां दो ने दम तोड़ दिया। श्रीनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित कुमार ने बताया कि युवकों का आतंकवादियों से कोई संबंध नहीं था। पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर क्षेत्र) अब्दुल गनी भट्ट ने बताया कि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है और जांच शुरू कर दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जम्मू में युवकों की मौत की अब होगी जांच