DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कलेक्ट्रेट में उमड़े समर्थक, विधायक को बताया निर्दोष

कांटी विधायक अजीत कुमार के सैकड़ों समर्थकों ने सोमवार को कलेक्ट्रेट में जोरदार प्रदर्शन किया। समर्थकों ने कांग्रेस नेता कृपाशंकर शाही पर हमले की साजिश रचने का विधायक पर लगे आरोप को निराधार बताया। साथ ही इस मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की। विधायक समर्थक घंटों कलेक्ट्रेट में जमे रहे। प्रशासन ने विधि-व्यवस्था को लेकर पूरा कैम्पस पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने कहाकि कांटी विधायक अजीत कुमार को कांग्रेस नेता पर हमले की साजिश रचने के मामले में गलत फंसाया गया है।

विधायक को फंसाने की साजिश रचने वालों की तत्काल गिरफ्तारी नहीं होने पर जिले में चक्काजाम किया जाएगा। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व मीनापुर के विधायक दिनेश प्रसाद व साहेबगंज के विधायक राजू कुमार सिंह ने किया। दोनों विधायकों के नेतृत्व में प्रदर्शनकारी खुदीरामबोस खेल मैदान से कलेक्ट्रेट पहुंचे थे। प्रदर्शन में कांटी विधानसभा क्षेत्र के मुखिया, पंचायत समिति सदस्य व अन्य जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ पूरे जिले के विधायक समर्थकों ने हिस्सा लिया। इस दौरान दोनों विधायकों के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल ने डीएम अनुपम कुमार व एसएसपी रंजीत कुमार मिश्रा से मिलकर एक ज्ञापन भी सौंपा।

इसमें पूरे मामले की तत्काल जांच करा विधायक अजीत कुमार व कांटी थर्मल पावर के अधिकारियों को आरोपमुक्त करने की मांग की गई। साथ ही मामले में विधायक को फंसाने की साजिश रचने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया। विधायकद्वय ने कहाकि अजीत कुमार की 30 वर्षों की राजनीतिक यात्रा में कभी किसी अपराधी से सांठगांठ का आरोप नहीं लगा। शिष्टमंडल को डीएम व एसएसपी ने ज्ञापन पर उचित कार्रवाई का भरोसा दिया। इस दौरान अमरदेव सिंह, मुखिया इंद्र मोहन झा, सैयद जान, नंद किशोर सिंह, नगर पंचायत अध्यक्ष शोभा गुप्ता, उपाध्यक्ष महेश प्रसाद साह, मुरारी झा, कैलाश प्रसाद सिंह, चुलबुल शाही, मोतिउर रहमान, बैद्यनाथ भगत, अरविंद सिंह, रामाज्ञा सहनी, महादेव राम, सुनील पासवान आदि शामिल थे।


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कलेक्ट्रेट में उमड़े समर्थक, विधायक को बताया निर्दोष