DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुर्घटना परीक्षण में विफल रहीं मारुति स्विफ्ट, डैटसन गो

दुर्घटना परीक्षण में विफल रहीं मारुति स्विफ्ट, डैटसन गो

अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा नियमों को पूरा करने में भारत की लोकप्रिय कारों के विफल रहने का और एक मामला सामने आया है। मारुति सुजुकी की लोकप्रिय हैचबैक कार स्विफ्ट और निसान की डैटसन गो, ग्लोबल एनसीएपी द्वारा कराए गए क्रैश टेस्ट (टक्कर परीक्षण) में विफल रहीं।

उपभोक्ता कार सुरक्षा परीक्षण निकायों के शीर्ष निकाय ग्लोबल एनसीएपी के मुताबिक, निसान की डैटसन गो और मारुति सुजुकी की स्विफ्ट के क्रैश टेस्ट से यह सामने आया कि टक्कर के दौरान उसमें सवार लोगों की जान जोखिम में पड़ने का खतरा ज्यादा है। इस निकाय ने इन दोनों कारों को शून्य स्टार सेफ्टी रेटिंग दी है।

ग्लोबल एनसीएपी ने एक बयान में कहा कि यदि इन कारों में आमने-सामने और बगल से टक्कर के मद्देनजर सुरक्षा के लिए संयुक्त राष्ट्र के परीक्षण नियमों के तहत की गई रिफारिशों का अनुपालन किया होता तो इनमें दुर्घटना जोखिम में उल्लेखनीय कमी लाई जा सकती थी। संपर्क किए जाने पर निसान ने कहा कि डैटसन गो भारत में आवश्यक स्थानीय वाहन नियमनों को पूरा करती है।

मारुति सुजुकी इंडिया ने एक बयान में कहा कि भारत में विनिर्मित व बेची गई कारें उन सभी नियमनों के पूरी तरह अनुरूप हैं जो वर्तमान में देश में लागू हैं। कंपनी ने कहा कि इसी तरह, मारुति सुजुकी द्वारा अंतरराष्ट्रीय बाजारों के लिए निर्यात हेतु भारत में विनिर्मित कारें संबद्ध आयातक देश के सभी नियमनों के पूरी तरह अनुरूप हैं। कंपनी ग्राहकों की सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध हैं। स्विफ्ट देश में सबसे ज्यादा बिक रही कारों में से एक है। ग्लोबल एनसीएपी ने कहा कि परीक्षण के मुताबिक, मारुति सुजुकी स्विफ्ट को वयस्क सवार के लिए जीरो स्टार्स और सवार बच्चों की दृष्टि से महज एकल स्टार दिया गया है। स्टार सुरक्षा की रेटिंग हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दुर्घटना परीक्षण में विफल रहीं मारुति स्विफ्ट, डैटसन गो