DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब आप वाट्स अप पर सीधे पुलिस से शिकायत करें

साइबर सिटी के लोग अब पुलिस को सीधे वाट्स अप पर फोटो और वीड़ियो भेजकर शिकायत कर सकते हैं। यह सुविधा चौबीस घंटे लोगों के लिए उपलब्ध है। मोबाइल नंबर-8586976050 पर शिकायत या सुधार भेजा जा सकता है।

 पुलिस कमिश्नर आलोक  मित्तल ने सोमवार को वाट़्स अप मैसेंजर की शुरूआत किया। इस दौरान कमिश्नर ने कहा कि वाट्स अप के जरिए अब लोग सीधे पुलिस को शिकायत कर सकते हैं। भ्रष्ट्राचार, ट्रैफिक और यौन उत्पीड़न  समेत अन्य शिकायतों की वीड़ियो और फोटो सीधे पुलिस को भेज सकते है। इसके एक पुलिस कर्मी को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। कमिश्नर ने कहा कि बिना हिचक के लोग वाट्स अप पर शिकायतें और सुझाव दे सकते हैं। वाट्स अप से पुलिस आम लोगों के बीच अपनी पहुंच और बेहतर तरीके से बना सकेगी। मित्तल ने कहा कि इससे पहले भी पुलिस फेसबुक और ट्वीटर पर उपलब्ध है। लेकिन,वाट्स अप लोगों के उपयोग करने में आसान है। ऐसे में मोबाइल नंबर-8586976050 को मोबाइल में सेव कर लें। इस नंबर पर संदेश भेजे, फोटो अपलोड करे और वाट्सअप के जरिए वीडियो भेजकर विभिन्न घटनाक्रमों और सरकारी कार्यालयों में भ्रष्टाचारियाें को पकड़वा सकते हैं। उम्मीद है कि इस सेवा का अधिक लाभ लोग उठा सकेंगे।


इनकी करें शिकायत-
यातायात की समस्या, ऑटो ड्राइवर द्वारा र्दुव्यवहार,पुलिस कर्मियों द्रारा परेशान करने समेत किसी  प्रकार  की शिकायत वाट्यअप पर बेखौफ होकर भेज सकते हैं।कोई सरकारी अधिकारी क्राइम के केस आदि में बेवजह परेशान करता है तो उसकी हर हरकत को वाट्सअप पर भेजकर उसकी शिकायत की जा सकती है। शिकायतों में किसी तरह का फर्जीवाड़ा न हो, इसके लिए शिकायत करते समय मुद्दा, स्थान, दिनांक और समय आदि का ब्यौरा देना होगा। फोटो और लघु वीडियो क्लीपिंग भी भेजे। शिकायत का अपना नाम, पता व मोबाइल नंबर भी शिकायत के साथ देना होगा। गुड़गांव पुलिस की एक टीम इन सभी शिकायतों को पूरी जिम्मेदारी और निष्पक्षता के साथ जांचेगी । शिकायत का नाम व पता भी गुप्त रखा जाएगा।

महत्वूर्पण नंबर
सीपी हेल्प लाइन- 99,99,99,99,53
महिला हेल्प लाइन- 1091
पुलिस कट्रोल रुम- 100
ट्रैफिक कंट्रोल- 9213020404
ऑटो वेरिफाई- 8860622032

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब आप वाट्स अप पर सीधे पुलिस से शिकायत करें