DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बरबीघा अस्पताल क्वार्टर में स्वस्थ्यकर्मी की गला दबाकर हत्या

स्थानीय रेफरल अस्पताल परिसर स्थित क्वार्टर में रविवार की देर रात 58 वर्षीय स्वास्थ्यकर्मी प्रकाश चौधरी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। वे शेखपुरा के सिविल सर्जन कार्यालय में हेड क्लर्क के पद पर तैनात थे। वे बरबीघा से ही शेखपुरा कार्यालय आते-जाते थे। घटना के बाद से मृतक की पत्नी व बच्चे आवास से फरार हैं।

एसडीपीओ नरेश शर्मा ने स्पष्ट रूप से कहा कि प्रकाश चौधरी की हत्या की गई है। मामले की जांच में पुलिस काफी सावधानी बरत रही है। उन्होंने बताया कि मामले की बारीकी से जांच के लिए पटना से फोरेंसिक टीम बुलायी गयी है। टीम के आने के बाद ही शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

अस्पताल क्वार्टर में तैनात होमगार्ड के जवान रामनंनदन सिंह ने बताया कि रविवार की रात करीब दस बजे मृतक के आवास से धुंआ निकलते देख लोगों को आग लगने की आशंका हुई। लोगों ने जब उनका दरवाजा खोलने का प्रयास किया तो वह अन्दर से बंद नहीं था। लोग प्रकाश चौधरी के बेड तक पहुंच गये। जब उन्हें जगाने का प्रयास किया गया तो वे मृत पाये गये।

इसके बाद अस्पताल में ड्यूटी पर तैनात डॉ. रवीन्द्र प्रसाद ने देखने के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया। जिस कमरे में लाश मिली है वहां आग लगाने का भी प्रयास किया गया है। उनके बेड पर नई धोती और एक कफन भी पहले से रखा मिला है। आसपास के लोगों ने बताया कि कई साल से प्रकाश चौधरी का पत्नी से संबंध ठीक नहीं था और दोनों के बीच अक्सर झगड़ा होते रहता था। कर्मी के सेवानिवृत्त होने के ठीक एक साल पहले उनकी हत्या होना और घटना के बाद घर से पत्नी व उनके संतान (एक बेटा व चार बेटियां) का फरार होना मामले को उलझा रहा है। आसपास के लोग भी इसे पारिवारिक कलह का परिणाम बता रहे हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बरबीघा अस्पताल क्वार्टर में स्वस्थ्यकर्मी की गला दबाकर हत्या