DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घाघीडीह जेल में फिर छापा, नहीं मिली पिस्तौल

घाघीडीह केंद्रीय कारागार में पिस्तौल की खोज में पुलिस और जिला प्रशासन की टीम ने सोमवार को भी छापेमारी की। हालांकि, एक मोबाइल चार्जर, एक बैट्री और एक चिलम के सिवाय कुछ खास हाथ नहीं लगा। छापेमारी करीब तीन घंटे तक चली।

सिटी एसपी कार्तिक एस. और एसडीओ प्रेम रंजन संयुक्त रूप से इस छापेमारी का नेतृत्व कर रहे थे। सोमवार तड़के पांच बजे दोनों अधिकारी पूरे दल-बल के साथ जेल परिसर में पहुंचे। इसके बाद जेल के गांधी वार्ड, नेहरू वार्ड, राजेंद्र वार्ड और अन्य जगहों की तलाशी ली गई। जांच के क्रम में पुलिस ने नेहरू वार्ड के समीप एक मोबाइल चार्जर और एक बैट्री बरामद की।

हिरासत में लिए गए लोगों से पूछताछ जारी
जेल में कैदियों के लिए सब्जी लेकर जा रहे टेंपो से कारतूस बरामद होने के बाद हिरासत में लिए गए चार लोगों से पुलिस पूछताछ कर रही है। इसमें टेंपो चालक काशीडीह निवासी कनकलाल, उसका दोस्त टुइलाडुंगरी निवासी काला राजू उर्फ राजू राव, जेल में सब्जी की आपूर्ति करने वाला सुरेंद्र तिवारी और टेंपो मालिक राजेंद्र सिंह उर्फ काके सरदार शामिल हैं। फिलहाल, यह पूरी घटना पुलिस के लिए पहेली बनी हुई है।
जेल के अंदर की गतिविधियों पर पुलिस की नजर
घाघीडीह जेल के अंदर परमजीत सिंह की हत्या की जा चुकी है, वहीं पिछले महीने कोर्ट परिसर में पेशी के दौरान अखिलेश सिंह की हत्या की कोशिश की हो चुकी है। ऐसे में जेल में मौजूद कई लोगों और गुटों पर पुलिस की नजर है। जेल के नेहरू वार्ड में परमजीत सिंह गिरोह से जुड़े लोगों का वर्चस्व है। वहीं, गांधी वार्ड में अखिलेश सिंह गिरोह के सदस्य रहते हैं। इस जेल में अमलेश सिंह, पंकज दुबे, अंजन शुक्ला, प्रकाश मिश्रा और अब्दुल मजीद जैसे कई चेहरे मौजूद हैं।
छापेमारी टीम में ये थे शामिल
छापेमारी टीम में सिटी डीएसपी केएन चौधरी, डीएसपी (विधि-व्यवस्था) बीएन सिंह, सीसीआर डीएसपी संचिता केरकेट्टा और पटमदा के डीएसपी अमित कुमार शामिल थे।

घाघीडीह जेल में सोमवार को हुई छापेमारी पुलिस और प्रशासन की रूटीन जांच थी, जो समय-समय पर होती रहती है। रविवार को जेल परिसर में टेंपो से गोलियों की बरामदगी की भी संजीदगी से जांच हो रही है।
- कार्तिक एस., सिटी एसपी

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:घाघीडीह जेल में फिर छापा, नहीं मिली पिस्तौल