DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

द्रविड़ को कप्तान पद से हटाना चाहते थे चैपल: तेंदुलकर

द्रविड़ को कप्तान पद से हटाना चाहते थे चैपल: तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर ने एक बड़ा खुलासा किया है कि भारत के तत्कालीन कोच ग्रेग चैपल ने वेस्टइंडीज में खेले गए विश्व कप 2007 से कुछ महीने पहले उन्हें राहुल द्रविड़ के स्थान पर भारतीय टीम की कप्तानी संभालने का सुझाव दिया था।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान चैपल जब तेंदुलकर के निवास पर गए तो उन्होंने कहा कि हम दोनों मिलकर वर्षों तक भारतीय क्रिकेट को नियंत्रित कर सकते हैं। इस दौरान चैपल ने पेशकश की कि द्रविड़ से कप्तानी लेने में वह मेरी मदद कर सकते हैं। इस स्टार बल्लेबाज ने अपनी आत्मकथा प्लेइंग इट माइ वे में यह खुलासा किया है जिसका गुरुवार को विमोचन होगा।

तेंदुलकर ने 2005 से 2007 के बीच राष्ट्रीय टीम के कोच रहे चैपल की कड़ी आलोचना करते हुए उन्हें रिंगमास्टर करार दिया जो खिलाड़ियों पर अपने विचार थोपता था और कभी इसकी परवाह नहीं करता था कि इससे खिलाड़ी सहज महसूस कर रहे हैं या नहीं।
द्रविड़ की जगह उन्हें कप्तान बनाने की कोच की कोशिश पर तेंदुलकर ने विस्तार से लिखा है, विश्व कप से कुछ महीने पहले चैपल मेरे घर आये और सुझाव दिया कि मुझे राहुल द्रविड़ से कप्तानी ले लेनी चाहिए।

उन्होंने लिखा है, अंजलि (तेंदुलकर की पत्नी) भी मेरे साथ बैठी थी और वह भी यह सुनकर हैरान थी कि हम दोनों मिलकर वर्षों तक भारतीय क्रिकेट को नियंत्रित कर सकते हैं और वह टीम की कप्तानी हासिल करने में मेरी मदद करेंगे। तेंदुलकर ने लिखा है, मुझे हैरानी हुई कि कोच कप्तान के प्रति थोड़ा भी सम्मान नहीं दिखा रहा है जबकि क्रिकेट का सबसे बड़ा टूर्नामेंट कुछ महीनों बाद होना है।

इस स्टार बल्लेबाज ने कहा कि उन्होंने चैपल का सुझाव सिरे से खारिज कर दिया। वह दो घंटे तक रहे, मुझे मनाने की कोशिश करते रहे और आखिर में चले गए।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:द्रविड़ को कप्तान पद से हटाना चाहते थे चैपल: तेंदुलकर