DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा और आजसू में सीटों पर दिल्ली में बातचीत जारी

भाजपा और आजसू गठबंधन के करीब पहुंच गए हैं। किसी भी वक्त गठबंधन का एलान हो सकता है। आजसू को भाजपा नौ सीटें दे सकती है। हालांकि आजसू ने 15 सीटें मांगी हैं। इधर भाजपा सांसद रामटहल चौधरी ने भाजपा नेतृत्व को पत्र लिखकर गठबंधन का विरोध किया है।

यशवंत सिन्हा सहित दिल्ली में जमे प्रदेश भाजपा के कई नेताओं ने भी नेतृत्व से कहा है कि भाजपा को गठबंधन नहीं करना चाहिए। गठबंधन को अंजाम देने के लिए शनिवार को दिल्ली पहुंचे सुदेश महतो ने झारखंड भाजपा के चुनाव प्रभारी धर्मेद्र प्रधान में लंबी बात हुई। गठबंधन पर अंतिम एलान रविवार को होगा। आजसू ने उम्मीदवारों की घोषणा रोकी : गठबंधन की संभावना को देखते हुए आजसू ने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा रोक दी है। सुदेश महतो ने दो दिन पहले एलान किया था कि शनिवार को 13 सीटों के उम्मीदवारों की घोषणा कर दी जाएगी। दिल्ली जाने के पहले उन्होंने पार्टी नेताओं और विधायकों के साथ बैठक की। आजसू ने रविवार को संसदीय दल की बैठक बुलाई है।

समझौते वाली सीट पर भाजपा ने तय किये नाम : आजसू पार्टी और भाजपा के बीच एक तरफ गठबंधन को लेकर बातचीत जारी है,तो दूसरी तरफ शनिवार को भाजपा ने उन सीटों पर भी उम्मीदवार का नाम तय कर दिया है, जिसे समझौते की स्थिति में आजसू पार्टी के खाते में जाना है।

विरोध के स्वर भी.. ’

सुदेश पहुंचे दिल्ली, मांगी 15 सीट, लेकिन नौ पर ही बन रही बात ’ गठबंधन के खिलाफ रामटहल ने अमित शाह को लिखा पत्र ’ यशवंत सिन्हा सहित झारखंड भाजपा तालमेल के विरोध में आजसू को दी जा सकती हैं सीटें : हटिया, सिल्ली, रामगढम्, जुगसलाई, चंदनक्यारी, लोहरदगा, बहरागोडम, गोमिया और बडम्कागांव। बरही सीट पर जिच है। सात विधायकों के टिकट काट सकती है भाजपा भाजपा अपने 18 में से 7 विधायकों का टिकट काट सकती है। प्रमुख नेताओं की बैठक में इस पर लगभग सहमति बन गई है। अब उस पर केंद्रीय चुनाव समिति की मुहर लगनी है। अधिकतर सीटों पर नाम तय कर दिये गये हैं। डेढम् दर्जन सीटों पर एक नाम पर सहमति नहीं बन पाई तो पैनल बनाना पडा। ’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भाजपा और आजसू में सीटों पर दिल्ली में बातचीत जारी