DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दस फीसदी तक कम हो सकता है बस किराया

पेट्रोल व डीजल का दाम गिरने का असर दिखने लगा है। इसकी वजह से राज्य में बस किराया 10 फीसदी तक कम हो सकता है। बिहार मोटर ट्रांसपोर्ट फेडरेशन ने 16 नवम्बर को इस मुद्दे पर पटना में राज्य भर के ट्रांसपोर्टरों की बैठक बुलायी है।

इस दौरान किराये में कमी के संबंध में निर्णय लिया जाएगा। सूत्रों का कहना है कि फेडरेशन कम दूरी की यात्रा पर पांच फीसदी व अधिक दूरी की यात्रा पर दस फीसदी तक किराये मंे कमी करने की तैयारी में है। फेडरेशन के इस निर्णय का लाभ मुजफ्फरपुर से पटना, दरभंगा, सीतामढ़ी, शिवहर व वैशाली जाने वाले यात्रियों को तो मिलेगा ही, रांची, टाटा, सिलीगुड़ी व पूर्णिया जैसे सुदूर क्षेत्र की यात्रा करने वालों को अधिक राहत मिलेगी। उल्लेखनीय है कि पिछले दो माह में पेट्रोल व डीजल के दाम में छह रुपये तक की कमी आने के बाद चौतरफा यात्री किराये में कमी की बात उठने लगी है।

ऑटो किराये पर निर्णय पांच को ऑटो संघ भी किराये में कमी की तैयारी कर रहा है। संघ ने इसके लिए बैरिया स्थित कार्यालय में ऑटो चालकों व मालिकों की बैठक बुलाई है। संभावना है कि शहर से प्रत्येक रूट पर चलने वाले ऑटो के किराये में प्रत्येक स्टॉपेज पर एक से दो रुपये तक की कमी आएगी। ऑटो संघ के अध्यक्ष एआर अन्नु ने बताया कि पांच नवम्बर को बैठक में यह विचार विमर्श किया जाएगा कि ऑटो किराये में किस रूट में कितने की कमी की जाए।

संघ की सहमति बनने के बाद पांच नवम्बर की ही शाम नयी किराया सूची जारी कर दी जाएगी। बयान ::: पेट्रोल डीजल के दाम में कमी आने के बाद बिहार मोटर ट्रांसपोर्ट फेडरेशन ने किराया दर में संशोधन का निर्णय लिया है। दाम गिरने का लाभ यात्रियों को जरूर मिलेगा, इसके लिए 16 नवम्बर को पटना में बैठक बुलायी गई है। उदय शंकर सिंह, प्रदेश अध्यक्ष, बिहार मोटर ट्रांसपोर्ट फेडरेशन।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दस फीसदी तक कम हो सकता है बस किराया