DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पर्यावरण मंत्रालय ने डिवाइडर के 550 पेड़ कटाई की दी मंजूरी

बदरपुर बॉर्डर से वाईएमसीए के बीच हाईवे के डिवाइडर को छोटा किए बिना छह लेन प्रोजेक्ट संभव नहीं। इसके रास्ते में जमीन की अड़चन आ रही है। एनएचएआई ने इस अड़चन को दूर करने के लिए हाईवे के डिवाइडर को छोटा करने का निर्णय लिया है। वन एवं पर्यावरण मंत्रयल से डिवाइडर पर खड़े पेड़ों को काटने की मंजूरी भी मिल गई है।


हाईवे छह लेन प्रोजेक्ट का कार्य कर रही कंपनी के इंजीनियरों की मानें तो मेट्रो स्टेशनों के ग्राउंड फ्लोर पर सर्विस लेन बनते ही डिवाइडर  के पेड़ कटाई का काम शुरु करा दिया जाएगा। इसके बाद डिवाइडर छोटा करके उन्हें पर्याप्त मात्र में हाईवे छह लेन प्रोजेक्ट के लिए जमीन मिल जाएगी। दरअसल, बॉर्डर से वाईएमसीए तक हाईवे किनारे मेट्रो प्रोजेक्ट पहले ही शुरु हो गया था, जबकि छह लेन का काम बाद में शुरु किया गया। इसके चलते हाईवे छह लेन प्रोजेक्ट में वाईएमसीए तक जमीन कम पड़ गई।
एनएचएआई के अधिकारियों ने जमीन की पैमाईश कराने के बाद हाईवे के बीच के डिवाइडर को छोटा करने का निर्णय लिया। इंजीनियरों के मुताबिक हाईवे पर मौजूदा स्थिति में वाईएमसीए तक यह डिवाइडर 4 से 8 मीटर है। लेकिन अब इसे जरुरत के हिसाब से छोटा करके डेढ़ मीटर से 4 मीटर तक किया जा सकेगा।


डिवाइडर पर इस समय छोटे-बड़े करीब 550 पेड़ लहला रहे हैं। जिन्हें सर्विस लेन के बाद काटने की कवायद शुरु कर दी जाएगी। वन एवं पर्यावरण मंत्रलय से पेड़ कटाई की मिली मंजूरी के बाद फरीदाबाद डीएफओ ने वन विकास निगम को पेड़ों की सूची भेज दी है। वन विकास निगम के महाप्रबध्ांक सुभाष यादव ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि जल्द ही इन पेड़ों की कटाई का काम भी शुरु करा दिया जाएगा।
-----------------------
सर्विस लेन पर होगा हाईवे का ट्रैफिक डायवर्ट
हाईवे छह लेन प्रोजेक्ट के तहत दो कैरिज बनाए जाएंगे। इसके दोनों ओर सर्विस लेन बनाई जाएगी। यह सर्विस लेन मेट्रो स्टेशनों के नीचे से होकर गुजरेगी। हाईवे छह लेन प्रोजेक्ट का काम कर रही रिलायंस कंपनी के महाप्रबंधक सचिंद्र सिंह ने बताया कि मेट्रो के सभी स्टेशन के ग्राउंड फ्लोर सर्विस लेन बनाकर उस पर वाहन डायवर्ट किए जाएंगे। डिवाइडर से पेड़ काटते वक्त हाईवे पर ट्रैफिक  रोकना पड़ेगा। इसके चलते सर्विस लेन ट्रैफिक डायवर्ट कर पेड़ कटाई का काम शुरु कराया जाएगा। सात नवंबर तक सभी मेट्रो स्टेशन एनएचएआई को मिल जाएंगे। जहां सर्विस लेन बनाने का काम दिन रात किया जाएगा।
हाईवे छह लेन प्रोजेक्ट पर एक नजर
साढ़े 12- साढ़े12 मीटर के होंगे दो कैरिज वे
दोनों कैरिज वे के साइड में 8-8 मीटर की बनेगी सर्विस लेन
दोनों कैरिज वे के बीच में होगा हरियालीयुक्त डिवाइडर
पहले डिवाइडर था 4 से 8 मीटर, अब रहेगा डेढ़ से 4 मीटर

 --------------
चौराहों पर पुलों का निर्माण तेज
-बाटा मोड पर पुल निर्माण को लेकर पाइलिंग का काम अंतिम चरण में
अजरौंदा चौक पर पाइलिंग का काम तेज
ओल्ड चौक पर पाइलिंग का काम तेज
बड़खल चौक पर पाइलिंग का काम लगभग पूरा
बल्लभगढ़ में शुरु होना है पाइलिंग का काम
आल्हापुर में व्हीकल अंडरपास का निर्माण कार्य शुरु
---------------
कुशलीपुर से बामनीखेड़ा दोनों ओर हाईवे 5-5 किलोमीटर में तैयार
बंचारी से होडल के बीच 4 किलोमीटर हाईवे बनकर तैयार

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पर्यावरण मंत्रालय ने डिवाइडर के 550 पेड़ कटाई की दी मंजूरी