DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वच्छता अभियान के लिए प्रशिक्षित किए जाएंगे डीयू के छात्र

केंद्र के स्वच्छ भारत अभियान के तहत दिल्ली विश्वविद्यालय ने पांच गांवों को गोद लिया है जिसके तहत अब वहां सफाई कार्य के लिए छात्रों को प्रशिक्षित किया जाएगा।
     
स्वच्छता अभियान को पूरा करने में मदद के लिए डीयू ने राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरी क्षेत्र के बाहरी इलाके में स्थित पांच गांवों- माजरा डबास, जटखोर, सेवापुरी, तिमारपुर, नंदनगरी को चुना है।
     
डीयू के प्रौढ़ सतत शिक्षा एवं विस्तार (डीएसीईई) शाखा के विभाग प्रमुख राजेश ने बताया कि हमने सुलभ इंटरनेशनल (एसआई) के साथ छात्रों को प्रशिक्षण दिलाने के संबंध में करार किया है ताकि वे अपनी क्षमताओं और कौशल का अंगीकत किए गए गांवों में इस्तेमाल कर सकें।
     
सप्ताह भर चलने वाले प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन डीएसीईई करेगा। जिसमें डीयू की स्वच्छता समिति और एसआई की भी भागीदारी होगी। डीएसीईई एक संगठन है जो इलाके की स्वच्छता और कूड़े कचरे के प्रबंधन का कार्य करता है।
     
उन्होंने बताया, इसके लिए डीयू के कॉलेजों को अपने पांच-पांच छात्रों को नामित करने को कहा गया है जिन्हें कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षित किया जाएगा और ये प्रमाणित प्रशिक्षित स्वयंसेवक होंगे। बाद में ये गांवों में आगे की स्वच्छता प्रशिक्षण कार्यक्रमों को भी आयोजित करेंगे।
     
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के तहत विश्वविद्यालय ने भी दो अक्टूबर से अपने डीयू स्वच्छता अभियान कार्यक्रम की शुरूआत की थी। 20 सदस्यीय इस समिति को सफाई, स्वास्थ्य और सुरक्षा के प्रति जागरूकता फैलाने की मुहिम के तहत निर्मित किया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्वच्छता अभियान के लिए प्रशिक्षित किए जाएंगे डीयू के छात्र