DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कश्मीर से सलीम को दिए गए थे दिशा निर्देश

मोहल्ला जाटान में ठहरे आतंकियों के बारे में सलीम पतला बखूबी जानता था। उसे एक माह पूर्व ही पता लगा गया था कि बिजनौर में आतंकी आने वाले हैं, लेकिन उसे यह जानकारी नहीं थी कि उनका मकसद क्या है।

एटीएस द्वारा की गई पूछताछ में यह खुलासा हुआ है। सूत्रों का तो यह भी दावा है कि सलीम ने अपने कई गुर्गो के नाम भी एटीएस को बता दिए हैं, जिनकी धरपकड़ के लिए एटीएस ने टीम गठित कर दी है।

एटीएस के विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार मुजफ्फरनगर के खतौली में पकड़ा गया आईएम का आतंकी सलीम पतला ने पूछताछ में साफ कर दिया है कि उसका बिजनौर में ठहरे आतंकियों से संबंध था। उसे एक महीने पहले ही पता लगा गया था कि बिजनौर में आतंकी आने वाले हैं। इसलिए वह कई बार बिजनौर में आया और आतंकियों से मिला। उनकी हर तरह से मदद की। उसने रुपयों से भी आतंकियों की मदद की। एटीएस के एक अफसर की मानें तो कश्मीर से उसे बताया गया था कि बिजनौर में उसे आतंकियों की मदद करनी है। सलीम उर्फ पतला को बिजनौर में ठहरे आतंकियों के मकसद के बारे में पता नहीं था। सूत्रों का कहना है कि सलीम पतला ने एटीएस को कई गुर्गो के नाम बताए हैं, जिनकी धरपकड़ के लिए एटीएस ने गोपनीय रूप से एक टीम का गठन कर दिया है। जल्द ही एटीएस उसके बाकी साथियों को भी पकड़कर जेल भेजने वाली है।
 -----------------
कहां छिप गए आतंकी यह नहीं उगला  
सलीम ने अभी तक यह नहीं उगला कि बिजनौर में विस्फोट के बाद आतंकी कहां पर छिप गए हैं। वह यही रट लगाए रहा कि उसे नहीं पता। एटीएस और बिजनौर के अफसरों ने खूब पूछताछ की, लेकिन उसने बिजनौर से फरार हुए आतंकियों के बारे में कुछ नहीं बता पाया।
 ---------------
बिजनौर से फरार हुए आतंकियों के बारे में सलीम के क्या संबंध थे, यह जांच शुरू कर दी है। जरूरत पड़ी तो जेल में भी सलीम से पूछताछ की जाएगी।
सत्येंद्र कुमार सिंह, एसपी बिजनौर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कश्मीर से सलीम को दिए गए थे दिशा निर्देश