DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रकाबगंज गुरुद्वारे में सिख दंगे का स्मारक बनाया जाएंगा

रकाबगंज गुरुद्वारा में दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के मुख्य गेट से प्रवेश करते ही दाहिनी ओर यह स्मारक बनाया जा रहा है। स्मारक में कुल तीन दीवारें बनाई जाएंगी। स्मारक में प्रवेश करने पर पहली दीवार लाल रंग के पत्थर से बनाई जाएगी। यह दंगों में मारे गए सिखों के बहे खून को प्रदíशत करेगी। इसके बाद बनी दीवार पर हल्का पानी बहता रहेगा। इस दीवार को वाल ऑफ टीयर का नाम दिया गया है। यह दंगा पीड़ितों के दर्द को प्रदíशत करेगी।


तीसरी दीवार पत्थर की होगी। इसमें लोहे की प्लेट पर दंगे में मारे गए लोगों के नाम लिखे होंगे। हर नाम के सामने फूल लगाने की जगह होगी। इसके आगे एंफीथिएटर बना होगा, जहां बनी सीढ़ियों पर लोग बैठ सकेंगे। इसके सामने एक जलाशय होगा, जिसके बीच में दीवार होगी जो बीच से टूटी हुई है। इसके बीच में आंसू की एक बूंद दर्शायी जाएगी। दीवार के चारों ओर हाथ बने होंगे, जो एक दूसरे को थाम होंगे। यह सामाजिक सद्भाव का संदेश देंगे।

सितारे बनकर चमकेंगे
जलाशय के बीच से एक लेजर बीम निकलेगी, जो करीब पांच मील तक ऊपर जाएगी। इस बीम को दिल्ली के किसी भी कोने से देखा जा सकेगा। स्मारक को डिजाइन करने वाली डिजायनर रेनू खन्ना का कहना है कि इस बीम को बनाने की धारणा यह है कि मृत लोग सितारे बन जाते हैं। यह बीम सितारे की तरह चमकती हुई आसमान तक जाएगी। इसे पूरी दिल्ली में कहीं भी देखा जा सकेगा।

ऐसे तैयार हुआ यह डिजाइन
स्मारक बनाने को लेकर डिजायनर के सामने कई चुनौतियां थी। जगह छोटी होने और एनडीएमसी के निर्माण कार्य करने के प्रतिबंध को लेकर इसका डिजायन तैयार करने में कई मुश्किलें आई। डिजायनर का कहना है कि तीन माह तक पीड़ितों का दर्द जानने के लिए उनसे मुलाकात की। उसके बाद उसने लैंडस्केप बनाया, जिससे सब कुछ जमीन पर बन जाए।


सिख विरोधी दंगों में मारे गए लोगों की याद में स्मारक
-1984 के सिख विरोधी दंगों की 30वीं बरसी पर शुरू हुआ काम
-02 साल में स्मारक बनकर तैयार होने की संभावना
-12 हजार लोगों के नाम स्मारक में बनी दीवार में उत्कीर्ण होंगे स्मारक में
पीड़ितों को नरसंहार और संपत्ति को लूटने से बचाने वालों का भी नाम
डीएसजीएमसी का दावा इतने लोग मारे गए सिख दंगे में

17वीं सदी के गुरुद्वारे गुरुद्वारा रकाबगंज में बनेगा स्मारक
दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के संरक्षण में बनेगा स्मारक

-----------स्मारक के लिए लंबी जद्दोजहद-----
20 साल से सिख कमेटी कर रही स्मारक बनाने के लिए संघर्ष
पिछली सरकार ने नहीं दी सिख स्मारक के लिए जमीन, अनुमति
पंजाबी बाग इलाके में एक पार्क का नाम बदलने को भी नहीं मिली मंजूरी
गुरुद्वारा रकाबगंज में फिर स्मारक बनाने का कमेटी ने लिया फैसला
स्मारक में एक तालाब, दीवार होगी जिसमें उत्कीर्ण होंगे सभी के नाम

------अड़चनें आईं-----
2013 जून में नींव रखे जाने पर भी एनडीएमसी ने भेजा नोटिस
डीएसजीएमसी ने दी सफाई, कोई नया ढांचा नहीं बनाया जा रहा

सरना गुट ने स्मारक के खिलाफ अदालत में दी याचिका
अकाल तख्त के आदेश के बाद गुट ने वापस ली याचिका
--------
26 अगस्त को दिल्ली सरकार के गृह विभाग ने मांगी विस्तृत जानकारी
स्मारक के लिए एनडीएमसी की स्वीकृति का अभी तक इंतजार?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रकाबगंज गुरुद्वारे में सिख दंगे का स्मारक बनाया जाएंगा