DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कॉलेज 44 और प्राचार्य मात्र सात

मगध विश्वविद्यालय में 44 अंगीभूत कॉलेज हैं और प्राचार्य मात्र सात बच गये हैं। कॉलेजों का प्रशासन व पठन-पाठन कैसे चलेगा, यह यक्ष प्रश्न विश्वविद्यालय प्रशासन को लगातार झकझोर रहा है। अब तक तीन चरणों में किए गए प्राचार्यों की नियुक्ति रद्द हो चुकी है। पुन: नियुक्ति रद्द करने के निर्णय पर स्थागनादेश हुआ है तथा 22 प्राचार्यों की नियुक्ति फिर से करने का निर्देश हाईकोर्ट ने दिया है। विश्वविद्यालय प्रशासन मुकदमेबाजी में बड़ी राशि खर्च कर रहा है। 

मविवि में शेष बचे 7 प्राचार्य
1 डॉ सत्यनारायण सिंह, 2 डॉ बबन सिंह, 3 डॉ राजकिशोरी देवी, 4 डॉ सुभाष प्रसाद सिन्हा, 5 डॉ श्रीकान्त शर्मा, 6 डॉ संजय सिंह तथा 7 डॉ सीताराम सिंह के नाम उल्लेखनीय हैं। मगध विश्वविद्यालय में 7 अंगीभूत कॉलेजों को छोड़कर शेष अन्य कॉलेजों में प्रभारी प्राध्यापक कार्यरत हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कॉलेज 44 और प्राचार्य मात्र सात