DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दक्षिण दिल्ली में पार्किंग के दाम बढ़े, सुविधाएं नहीं

दक्षिण और पश्चिम दिल्ली नगर निगम ने शनिवार से पार्किग की बढ़ी दरें लागू कर दी हैं, लेकिन सुविधाओं की स्थिति जस की तस बनी हुई हैं। दक्षिण दिल्ली नगर निगम की चार अधिकृत पार्किग की स्थिति पर विशेष रिपोर्ट :  

बड़ी परेशानियां  
- पार्किग स्थल पर सुरक्षाकर्मियों की कमी
- तारबंदी या दीवार नहीं होना
- पार्किग नोटिस बोर्ड सही स्थान पर नहीं होना
- निर्धारित स्थान से ज्यादा में गाड़ियां खड़ी करना
- कंप्यूटराइड पर्ची का नहीं होना

वसंत कुंज, फोर्टिस अस्पताल
सुबह 10:10 बजे
तारबंदी नहीं, गाड़ियों की चोरी का खतरा
वसंत कुंज में फोर्टिस अस्पताल के पास स्थित इस पार्किग में अधिकतर अस्पताल कर्मियों और मरीजों से मिलने आने वालों की ही गाड़ियां खड़ी होती हैं। पार्किग की एक तरफ अस्पताल की दीवार है, जबकि महरौली-महिपालपुर रोड की ओर कोई तारबंदी या दीवार नहीं है। इससे गाड़ियों की चोरी होने का खतरा लगातार बना रहा है। यहां अकसर कार खड़ी करने वाले सत्यदेव ने बताया कि मुङो इस पार्किग में सुरक्षा की सबसे बड़ी कमी लगती है। यहां पर गाड़ियों की सुरक्षा संदेह के घेरे में रहती है। पार्किग में काम करने वाले मनोज ने बताया कि हमें अभी तक बढ़ी हुई दरों की पर्ची नहीं मिली हैं। इसलिए हम लोगों से पुरानी दरों से ही पैसे ले रहे हैं।

हौज खास गांव
दोपहर 12:20 बजे
पार्किग दरों की जानकारी के लिए बोर्ड नहीं
हौस खास गांव के बाहर सड़क के दोनों किनारों पर एसएमसीडी पार्किग में गाड़ियां खड़ी की जाती हैं। यहां पार्किग से संबंधित जानकारी देने वाले बोर्ड दिखाई ही नहीं दिए। एक बोर्ड दिखा भी तो वह पेड़ पर उल्टा लटका हुआ था। इसे पढ़ना बेहद मुश्किल था। पार्किग में काम करने वाले सुनील सिंह ने बताया कि उन्हें बढ़ी हुई पार्किग दरों के बारे में जानकारी नहीं। ठेकेदार की ओर से सूचना मिलने पर हम यहां दरों को बढ़ाएंगे। पार्किग का इस्तेमाल करने वाले मोहन राणा ने बताया कि बोर्ड नहीं होने की वजह से कई बार यहां पार्किग स्टाफ और लोगों के बीच बहस हो जाती है।

ग्रीन पार्क मैन मार्केट
दोपहर 01:45 बजे
गाड़ियों की सुरक्षा के लिए नहीं हैं गार्ड
ग्रीन पार्क मैन मार्केट की सड़क पर दोनों ओर स्थित पार्किग में गाड़ियों की सुरक्षा के लिए कोई गार्ड नहीं दिखा। इस व्यस्त मार्केट में गाड़ियों की सुरक्षा के लिए गार्ड बहुत जरूरी है। खरीदारी के लिए अकसर यहां आने वाले देवेंद्र ने बताया कि मैं अपनी कार यहीं खड़ा करता हूं, लेकिन मैंने कभी किसी गार्ड को नहीं देखा। अगर ऐसा होता तो है मेरी कार की सुरक्षा बढ़ जाएगी। यहां काम करने वाले विजय यादव ने बताया कि अभी पार्किग की नई दरों की पर्चियां छपी नहीं हैं, इसलिए पुरानी से ही काम चला रहे हैं। हफ्तेभर में ये छपकर आ जाएंगी।

लाजपत नगर सेंट्रल मार्केट
शाम 03:25 बजे
सही ढंग से गाड़ी नहीं लगाने से लगता जाम
लाजपत नगर सेंट्रल मार्केट की सड़क की दोनों ओर स्थित पार्किग में खड़ी गाड़ियों की वजह से यहां हमेशा जाम की स्थिति बनी रहती है। दरअसल, पार्किग फुल होने बाद गाड़ियां निर्धारित स्थान से आगे भी खड़ी करा दी जाती हैं, जिससे यह समस्या होती है। पत्नी के साथ शॉपिंग करने आए राजवीर सिंह ने बताया कि यहां जाम की परेशानी हमेशा रहती है। पार्किग में काम करने वाले शंकर ने बताया कि अभी हमें बढ़ी हुई दरों की पर्ची तो नहीं मिली हैं, लेकिन हमने लोगों से बढ़ी दरों से पैसे लेना शुरू कर दिया है। हालांकि कुछ लोग ही बढ़ी दरों से पैसे दे रहे हैं।  

कोट :
दिल्ली की पार्किग की खराब स्थिति के बारे में तो सब जानते ही हैं, लेकिन पार्किग दरें बढ़ने के बाद उम्मीद है कि गाड़ियों की सुरक्षा के लिए कुछ नया हो।
- कंवलजीत सिंह बाजवा, ड्राइवर

दिल्ली में अधिकतर पार्किग में हाथ से ही पर्ची काट कर देते हैं, जिससे सही समय का पता नहीं चलता है। इसकी वजह से कई बार मेरी पार्किग कर्मियों से कहासुनी भी हो चुकी है।
- तेजपाल सिंह, ड्राइवर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दक्षिण दिल्ली में पार्किंग के दाम बढ़े, सुविधाएं नहीं