DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्यमंत्री कार्यालय का कायाकल्प करना चाहते हैं फड़नवीस

मुख्यमंत्री कार्यालय का कायाकल्प करना चाहते हैं फड़नवीस

महाराष्ट्र के नये मुख्यमंत्री देंवेद्र फड़नवीस ने अपने प्रशासन के तहत कामकाज की गति बढ़ाने एवं बेहतर कुशलता सुनिश्चित करने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय की तर्ज पर अपने कार्यालय का विकास करने की योजना बनायी है।

राज्य के पहले भाजपा मुख्यमंत्री की शपथ लेने के एक दिन बाद आज उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि मैं मुख्यमंत्री कार्यालय को प्रधानमंत्री कार्यालय की तर्ज पर विकसित करने की प्रक्रिया में लग गया हूं। चुनिंदा नौकरशाहों का एक समुच्च्य मंत्रियों की ऐसे मामलों में सहायता करेगा, जिनमें वे अपने तरीके काम नहीं कर पा रहे होंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय को मजबूत बनाने से बाधाएं दूर होंगी तथा जब नौकरशाह मंत्रियों की मदद को आगे आयेंगे तो लंबित कामों का बोझ घटेगा।

स्थानीय निकाय कर खत्म करने की मांग पर मुख्यमंत्री ने कहा कि वह वैट पर कारोबार कर शुरू करने पर विचार कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि भाजपा ने अपने चुनाव प्रचार के दौरान स्थानीय निकाय कर खत्म करने का वादा किया था। जब फड़नवीस से टोल टैक्स के मुद्दे के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि उन्होंने कुछ विकल्पों पर सोचा था। चूंकि टोल टैक्स उपभोक्ताओं से वसूला जाता है, तो इस (व्यवस्था) में भी पारदर्शिता होनी चाहिए।

विदर्भ के मुद्दों पर विचार के लिए अलग सरकारी तंत्र कायम करने के बारे में नागपुर दक्षिण पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के विधायक का कहना था कि पिछली व्यवस्था काम नहीं कर पायी, जिसके तहत पूर्व मुख्य सचिव अरुण बोगिंरवार को इस क्षेत्र के मुद्दों की देखभाल के लिए नियुक्त किया गया था और वह नागपुर में बैठा करते थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम व्यवस्था को और सुचारू बनाना चाहते हैं एवं अपनी प्राथमिकताएं तय करना चाहते हैं फिर उस हिसाब से फैसला करेंगे। फड़नवीस कल नागपुर जायेंगे, जहां उनका मुख्यमंत्री बनने पर भव्य स्वागत किया जाएगा। सोमवार को उनकी अधिकारियों एवं निर्वाचित प्रतिनिधियों के साथ कई बैठकें होंगी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुख्यमंत्री कार्यालय में बदलाव करना चाहते हैं फड़नवीस