DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शास्त्रीय संगीत का मुकम्मल ठिकाना

भारत में शास्त्रीय संगीत की बहुत ही समृद्ध परम्परा रही है और सदियों से चली आ रही है। लेकिन हमारी युवा पीढ़ी इस समृद्ध परम्परा से उतनी परिचित नहीं है। ऐसे में युवाओं के लिए एक वेबसाइट ‘म्यूजिकल हेरिटेज’ काफी रोचक साबित हो सकती है। यह भारतीय शास्त्रीय संगीत को बढ़ावा देने का ऑनलाइन प्रयास है। चूंकि आज का युवा वर्ग तकनीक से काफी जुड़ा हुआ है, संभवत: इसी को ध्यान में रखते हुए भारतीय शास्त्रीय संगीत को समर्पित यह वेबसाइट तैयार की गई है। यह वेबसाइट सभी उम्र के लोगों को शास्त्रीय गायन के साथ वादन और नृत्य का ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रदान करती है। साथ ही कर्नाटक संगीत और रवींद्र संगीत के विभिन्न रूपों का ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रदान करती है। इस वेबसाइट का एक बड़ा उद्देश्य कम मशहूर और लुप्त हो रही कला और संगीत शैलियों के बारे में जागरूकता पैदा करना और बढ़ावा देना है। यहां पर कुमार गंधर्व, उस्ताद बिस्मिल्लाह खान, पंडित भीमसेन जोशी, पंडित जसराज, पंडित अजय चक्रवर्ती, उस्ताद फयाज वसीफुद्दीन डागर और पंडित राजन-साजन मिश्रा जैसे विश्वप्रसिद्ध शास्त्रीय कलाकारों के बारे में जानकारी दी गई है।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शास्त्रीय संगीत का मुकम्मल ठिकाना