DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वाम दलों ने निजी क्षेत्र में आरक्षण की मांग की

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के नेता डी राजा ने गुरुवार को कहा कि आरक्षण कोई भीख नहीं बल्कि वह संवैधानिक अधिकार है जिसे आर्थिक गतिविधि के हर क्षेत्र से जोड़ा जाना चाहिए। राजा ने कहा कि निजी क्षेत्र में आरक्षण के लिए राष्ट्रीय सम्मेलन में अपने संबोधन में कहा कि वर्ग संघर्ष को केवल अर्थ से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह संघर्ष राजनीतिक रुप से सशक्ितकरण और सामाजिक उत्थान से जुड़ा है। उन्होंने कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी दोनों पर दलितों आदिवासियों और अन्य पिछडे वर्ग के लोगों की कीमत पर राजनीतिक करने का आरोप लगाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वाम दलों ने निजी क्षेत्र में आरक्षण की मांग की