अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महंगाई के खिलाफ सड़क पर उतरा राजग

प्रदेश एनडीए ने बढ़ती महंगाई के खिलाफ शंखनाद करते हुए केन्द्र की यूपीए सरकार के खिलाफ सड़क पर आंदोलन की शुरूआत कर दी। एनडीए ने एक ओर मशाल जुलूस निकालकर और मानव श्रृंखला बनाकर आंदोलन का बिगुल फूंका तो दूसरी ओर केन्द्र सरकार की बर्खास्तगी के लिए राज्यपाल के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भी दिया। गुरुवार को एनडीए का 11 सदस्यीय शिष्टमंडल राज्यपाल आर.एस.गवई से मिलकर उन्हें राष्ट्रपति के नाम संबोधित एक स्मार पत्र सौंपा। शिष्टमंडल का नेतृत्व एनडीए के संयोजक नंदकिशोर यादव, जदयू के प्रदेश अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह और राधामोहन सिंह कर रहे थे।ड्ढr ड्ढr शिष्डमंडल में जदयू के शिवप्रसन्न यादव, रामेश्वर पासवान, रवीन्द्र सिंह, अंजलि सिन्हा, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष विजय कुमार मिश्रा, डॉ. सुखदा पांडेय, विश्वनाथ भगत और ललिता सिंह यादव मुख्य थे। एनडीए ने आरोप लगाया है कि महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। महंगाई पर प्रभावकारी नियंत्रण के लिए यूपीए सरकार कोई गंभीर प्रयास नहीं कर रही। गुरुवार को एनडीए कार्यकर्ताओं ने मशाल जुलूस निकाला और महंगाई का पुतला दहन किया। प्रदेश कार्यालय से निकाला गया मशाल जुलूस डाकबंगला चौराहा तक गया। शुक्रवार को एनडीए कार्यकर्ताओं ने मानवश्रृंखला बनाकर महंगाई के खिलाफ अपना विरोध जताया। मानव श्रृंखला का नेतृत्व जदयू व भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के अलावा जदयू के राष्ट्रीय महासचिव व सांसद शिवानंद तिवारी कर रहे थे। इसमें जदयू के विधायक ज्ञानेन्द्र सिंह ज्ञानू, सुनील कुमार, अनिल पाठक, चन्देश्वर प्रसाद चद्रवंशी, डॉ. नवीन कुमार आर्य, सुशील कुमार सुनील, अशोक वर्मा, विनोद सिंह, अरविन्द निषाद, उषा विद्यार्थी, युगेश कुशवाहा, जगन्नाथ गुप्ता, अरुण मांझी, जितेन्द्र यादव, रजाउल्लाह के अलावा भाजपा के विधायक अरुण कुमार सिन्हा, राजेद्र प्रसाद गुप्ता, विनोद नारायण झा, रणवीर नंदन, अनिल शर्मा, योगेद्र पासवान, डॉ. सूरजनंदन मेहता, वंदना नारायण, अरविन्द गुप्त, सत्येद्र कुशवाहा, प्रदीप दूबे, वीरन्द्र झा, राकेश सिंह और सुरश रुंगटा आदि शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: महंगाई के खिलाफ सड़क पर उतरा राजग