अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बर्फबारी ने रोकी आेलंपिक मशाल की राह

दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर शनिवार को हुई बर्फबारी के चलतेबीजिंग आेलंपिक की विशेष मशाल को एवरेस्ट पर ले जाने के चीन के मंसूबों को तगड़ा झटका लगा है। एवरेस्ट अभियान टीम के सदस्य करीब 6500 मीटर की ऊंचाई पर पिछले दो दिन से फंसे हैं और मशाल को चोटी पर ले जाने के लिए मौसम ठीक होने का इंतजार कर रहे हैं। आेलंपिक मशाल की एवरेस्ट यात्रा पर निगरानी रखने वाले विभाग की उप निदेशक सुआेनाम कुआेमू ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी होना आम बात है। हमने पूरी तैयारी कर ली है और चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि बर्फबारी के बाद कुछ दिनों तक मौसम साफ रहता है। हालांकि उन्होंने कहा कि भारी बर्फबारी के चलते आेलंपिक मशाल के लिए पर्वत पर रास्ता बनाने में दिक्कत आएगी। अधिकारियों का कहना है कि उन्हें एवरेस्ट के हालात के बारे मंे जानकारी नहीं है और वे मौसम विभाग से इस संबंध में जानकारी इकट्ठा कर रहे हैं। पेइचिंग आेलंपिक खेलों की आयोजन समिति के सलाहकार लियू जियान ने कहा कि मेरे अनुभव के मुताबिक भारी बर्फबारी के दौरान आप पीछे हटने अथवा यात्रा रद्द करने का फैसला करते हैं। मुझे माउंट एवरेस्ट की स्थिति के बारे मंे पता नहीं है इसलिए मैं इस संबंध में कुछ नहीं कह सकता। उन्होंने कहा कि हमें यहां से जैसी बर्फ दिखाई दे रही है वह पर्वतारोहियों के लिए मुश्किल नहीं है। आमतौर पर एवरेस्ट पर बर्फ बारी एक दिन में भी रुक जाती है या इसमें एक सप्ताह का समय भी लग सकता है। हम उम्मीद करते हैं कि बर्फबारी जल्द ही रुक जाएगी। गौरतलब है कि माउंट एवरेस्ट की यात्रा करने वाली विशेष आेलंपिक मशाल दुनियाभर की यात्रा निकली आेलंपिक मशाल से अलग है। चीनी अधिकारी मशाल को हर हाल में एवरेस्ट पर ले जाने के लिए दृढसंकल्प हैं। दुनिया भर में तिब्बत समर्थक प्रदर्शनकारियों के विरोध के बीच आेलंपिक मशाल इस हफ्ते चीन पहुंचेगी जहां अगस्त में आेलंपिक खेल होने वाले हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बर्फबारी ने रोकी आेलंपिक मशाल की राह