DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब ग्रामीण भूमिहीन परिवार के मुखिया का बीमा होगा

अब ग्रामीण भूमिहीन परिवार के मुखिया का बीमा होगा। इस आम आदमी बीमा योजना के तहत यदि किसी ग्रामीण भूमिहीन परिवार के मुखिया की असामयिक मृत्यु, दुर्घटना, अपंगता हो जाती है तो ऐसी स्थिति में सरकार पीड़ित व्यक्ित एवं उसके आश्रित को सुरक्षा प्रदान करगी।ड्ढr ड्ढr इस योजना की पात्रता के लिए आयु सीमा 18 से 5वर्ष है। इस योजना का प्रीमियम भूमिहीनों को नहीं देना है।ड्ढr इसका प्रीमियम केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। इस संबंध में शनिवार को एक कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसका उद्घाटन श्रम मंत्री अवधेश नारायण सिंह ने किया। श्री सिंह ने कहा कि कोई भी काम भारी नहीं होता है। किसी भी काम को करने की यदि लगन हो तो भारी से भारी काम आसान हो सकता है। इस मौके पर बाल श्रमिक आयोग के अध्यक्ष रामदेव श्रम संसाधन विभाग के प्रधान सचिव व्यास जी, श्रमायुक्त उपेन्द्र राय, श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी दीपेन्द्र भूषण, शैलेन्द्र कुमार सिंह, अमरकांत सिंह एवं आर.सी. चौधरी सहित प्रत्येक जिला के प्रतिनिधि उपस्थित थे।ड्ढr ड्ढr विस्तृत जानकारी देते हुए श्रमायुक्त ने बताया कि यदि किसी बीमित व्यक्ित की मृत्यु प्राकृतिक रूप से होती है तो उसके आश्रितों को तीस हजार रुपए, यदि बीमित व्यक्ित की मौत दुर्घटना से हो या इसके चलते अपंग हो जाता है तो 75000 रुपए एवं यदि बीमित व्यक्ित की दुर्घटना के दौरान एक हाथ या एक पैर बर्बाद हो जाता है तो उसे 37,500 रुपए का बीमा धन उसके नॉमिनी को मिलेगा। इसके अलावा बीमित व्यक्ित के दो बच्चे को कक्षा से 12वीं तक प्रतिमाह सौ रुपए शिक्षावृत्ति दी जाएगी। इस योजना का प्रीमियम केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब ग्रामीण भूमिहीन परिवार के मुखिया का बीमा होगा