class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांव-कांव

मलेश भइया का बढ़ता वजन देख कहीं भाग गये होंगे- संगीता, चंदवाड्ढr महंगाई पर हर दवा नाकामड्ढr अब तो सिर्फ रामदेव बाबा का ही सहारा है- आरके पांडेय, बोकारोड्ढr आपलोग इस्तीफा दे दीजिये, यही एक दवा बाकी है- आशीष अग्रवालड्ढr एक दवा है, आपलोग गद्दी छोड़ दीजिये- नीलकंठ चंद्रवशी, राजगंजड्ढr योग अपनाइये, 24 घंटे में एक बार खाइये- डॉ हर्षदेव गुप्ता, चतराड्ढr अब चुप नहीं बैठूंगा : नामधारीड्ढr चाचा अमिताभ बच्चन बनने में एतना देर काहे किये- विनीत कुमारड्ढr तो बोलते रहिये, आपकी सुनता कौन है- वीरू, बोकारोड्ढr दिल की गिरह खोल दो, चुप न बैठो, कोई गीत गाओ- दिनेश प्रसादड्ढr एक बार चुपचाप खड़ा होकर भी देख लीजिये- हेडमास्टर से कम वेतन है डीएसइ काड्ढr उन्हें वेतन की जरूरत क्या है- और ऊपरी कमाई- ओमप्रकाश गोयल, सिमडेगाड्ढr लेकिन कमाई में दस गो हेडमास्टर भी बराबरी नहीं कर सकते- जीतेंदड्र्ढr महंगाई थमेगी, धीरा रखें : चिदंबरमड्ढr धीरा के अलावा कुछ बचा भी तो नहीं है- अरविंद कुमार, रांचीड्ढr एसटीएफ गठन में विवाद नहीं : कोड़ाड्ढr उम्मीद से भी ज्यादा मिलल बा का- मिंटू, धनबादड्ढr जानलेवा हो सकती है जम्हाईड्ढr त मंत्रीजी लोग विधानसभा में मुंह में टॉफी लेके बइठी का- मो हसनड्ढr लोग कहेंगे, बीवी सोने नहीं दी, इसलिए मर गया- तभी तो ऑफिस में हाकिम लोग खर्राटा मारते हैं- हर कुंवारी लड़की देखती है घर बसाने का सपनाड्ढr इसीलिए प्रैक्िटकल तौर पर कुंवारों का घर उााड़ते रहती हैं- अजय रायड्ढr पैसा पानी की तरह बहे, कुएं-तालाब नहीं बनेड्ढr का कीाियेगा, पानी कोई पीबे नहीं करता है, महुआ से..- दिलीप रक्षित

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कांव-कांव