DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शास्त्रीय संगीत और बच्चों की जुगलबंदी

सरस्वती संगीत साधना केंद्र की दो दिनी शास्त्रीय नृत्य और गायन प्रतियोगिता शनिवार को टाउन हॉल में शुरू हुई। पहले दिन शास्त्रीय नृत्य, गायन और सुगम संगीत की प्रतियोगिताएं हुईं। इसमें 450 बच्चों ने अपना जौहर दिखाया। कार्यक्रम का उद्घाटन आंतरिक संसाधन एवं क्रेंद्रीय सहायता समिति के सभापति डॉ रवींद्र कुमार राय ने किया। उन्होंने कहा कि शास्त्रीय संगीत को जितनी तवज्जो मिलनी चाहिए, उतनी नहीं मिल रही। खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष जयनंदू ने कहा कि संगीत हर इंसान के अंदर है। जरूरत है इसे बढ़ावा देने की। उन्होंने सरस्वती संगीत साधना केंद्र की स्मारिका का विमोचन भी किया। कला-संस्कृति विभाग के उपनिदेशक हरंद्र कुमार सिन्हा ने कार्यक्रम की सराहना की। ृसचिव पंडित सतीश शर्मा ने बताया कि केंद्र में 750 बच्चे शास्त्रीय संगीत, नृत्य और पेंटिंग की शिक्षा ले रहे हैं। रविवार को चित्रकला, क्षेत्रीय गायन, फिल्मी और गैर फिल्मी गायन पर आधारित प्रतियोगिताएं होंगी। मंच संचालन उषा जायसवाल ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शास्त्रीय संगीत और बच्चों की जुगलबंदी