DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर में झोपड़ियों पर चला बुलडोचार

बांकीपुर जेल के पीछे दो सौ झोपड़ियों और न्यू मार्केट के जनता बाजार की दर्जनों दुकानों पर शनिवार को नगर निगम ने बुलडोर चला कर उााड़ दिया। इस दौरान कुछ शरारती तत्वों ने एक झोपड़ी में आग लगा दी। हालांकि मौके पर तैनात फायर ब्रिगेड के कर्मियों ने तुरंत आग पर काबू पा लिया। इस कारण जेल परिसर के पीछे पूर दिन अफरातफरी की स्थिति बनी रही। कब्जा हटाने के क्रम में पुलिस-प्रशासन को किसी प्रकार के विरोध का सामना नहीं करना पड़ा।ड्ढr ड्ढr सुबह 0 बजे नगर निगम और जिला प्रशासन की टीम पूर लाव लश्कर के साथ अवैध कब्जा हटाने पहुंची। पिछली घटनाओं से सबक ले इस बार प्रशासन पूरी तरह से चौकस था। जेल परिसर के पीछे आने-ााने वाली सभी सड॥कों को पुलिस ने सील कर दिया। अवैध कब्जा हटाने का विरोध करने वाले आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार कर लिया जिन्हें देर शाम छोड़ दिया गया। वाटरकैन, फायर ब्रिगेड की गाड़ी, वज्र वाहन, दो बुलडोर, दो सौ पुलिस बल और एक सौ मजदूर अवैध कब्जा हटाने के कार्य में लगे थे। डेढ़ वर्ष पहले इसी स्थान पर अवैध कब्जा हटाने के दौरान स्थानीय लोगों ने तत्कालीन पीआरडीए के बुलडोर को फूंक दिया था।ड्ढr ड्ढr नूतन राजधानी अंचल के कार्यपालक पदाधिकारी बीएम सिंह ने बताया कि नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव एस जलजा के निर्देश पर अवैध कब्जा हटाने की कार्रवाई की गई है। जेल परिसर की जमीन पर बुद्धा स्मृति पार्क का निर्माण कराया जाना है। उन्होंने बताया कि पूर्व में भी कई बार लोगों को स्वयं हटने को कहा गया था। जेल परिसर के पीछे नगर विकास विभाग के संयुक्त सचिव प्रेमचंद्र चौधरी, सदर एसडीओ रावी रांन, जिला नियंत्रण कक्ष के प्रभारी दंडाधिकारी दीपक सिंह, कोतवाली डीएसपी कुमार अमर सिंह, थाना प्रभारी अभय नारायण सिंह व देवेंद्र कुमार सिंह समेत कई प्रशासनिक अधिकारी पूर दिन कैंप किये रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शहर में झोपड़ियों पर चला बुलडोचार