अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बहस नहीं मैं फैसले कर सकता हूं: पीएम

पीएम मनमोहन ने कहा कि वे भाजपा के पीएम इन वेटिंग लालकृष्ण आडवाणी के साथ टीवी पर बहस करके उन्हें वैकल्पिक प्रधानमंत्री बनने का मौका नहीं देना चाहते हैं। सिंह ने कहा, ‘सार्वजनिक मंच पर बोलने में मैं आडवाणी का मुकाबला नहीं कर सकता। मैं अच्छा वक्ता नहीं हूं लेकिन मैं निर्णल ले सकता हूं। मैं बदजुबानी नहीं करता। यह विरासत मुझ अपन माता-पिता और शिक्षकों स मिली है और यही भारतीयता की पहचान भी है।’ यहां महिला प्रेस क्लब के सदस्यों से बातचीत में सिंह ने कहा कि कड़ शब्दों क इस्तमाल स किसी समस्या का हल नहीं निकलता है बल्कि विवाद ही पैदा होता है। आडवाणी पर निशाना साधने हुए उन्होंने यहां तक कहा कि कौन कमजोर है और कौन मजबूत है, यह जोर-ाोर स बातं करन से साबित नहीं हागा। सिंह ने माना कि कुछ सहयोगियों के अलग फ्रंट बनाने से चुनाव के नतीजों पर असर पड़ सकता है। लेकिन फिर भी वामदल या तीसरा फ्रंट अपने बूते पर सरकार बनाने में सफल नहीं हो सकते। पीएम ने कहा मैं चाहता था कि सर्पा और लोजपा कांग्रेस के साथ काम करं। उन्होनें कहा कि टाइटलर और सज्जन कुमार का टिकट काटने का फैसला सिखों की भावनाओं के प्रति पार्टी की संवेदनशीलता को दर्शाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बहस नहीं मैं फैसले कर सकता हूं: पीएम