class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा के प्रदेश महामंत्री भी निशाने पर

प्रदेश नेतृत्व के बाद अब भाजपा के अन्य पदाधिकारी भी असंतुष्ट नेताओं-कार्यकर्ताओं के निशाने पर आ रहे हैं। शनिवार को प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र गुप्ता उस वक्त एक कार्यकर्ता की नाराजगी के शिकार हुए जब वह अपनी गाड़ी में बैठकर दफ्तर से रवाना हो रहे थे। जानकारी के मुताबिक उग्र तेवर अख्तियार किए रूपेश कुमार नामक कार्यकर्ता ने उनकी गाड़ी को भाजपा मुख्यालय के मेनगेट के पास रुकवा लिया और कई आरोप मढ़े।ड्ढr ड्ढr श्री कुमार की शिकायत थी कि लम्बे आश्वासन के बाद भी उनको प्रदेश मीडिया प्रभारी श्री गुप्ता के दबाव पर ही नहीं बनाया गया। उल्टे कई योग्य कार्यकर्ताओं की उपेक्षा कर विधायक दल के नेता और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के पूर्व आप्त सचिव रहे वीरन्द्र झा को इस पद पर बैठा दिया गया। प्रदेश भाजपा के एक पुराने नेता के रिश्तेदार रूपेश कुमार अपनी नाराजगी श्री गुप्ता के कक्ष में भी जता चुके थे। श्री गुप्ता को इस तरह रुकवाए जाने से वहां कई कार्यकर्ता जमा हो गए थे। लोगों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत कराया। संपर्क किए जाने पर श्री गुप्ता ने कहा कि रुपेश कुमार खुद मीडिया प्रभारी बनने के प्रयास में थे। मगर इस पर निर्णय अध्यक्ष को लेना होता है। उनसे मिलने कई कार्यकर्ता आते हैं। लेकिन सबको पद नहीं मिल जाता। वहीं प्रदेश अध्यक्ष राधामोहन सिंह ने कहा कि उनको ऐसी किसी घटना की भनक तक नहीं है। किसीने किसी से निजी तौर पर कुछ कहा हो तो नहीं कह सकते। इस बाबत रूपेश कुमार से बात नहीं हो सकी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भाजपा के प्रदेश महामंत्री भी निशाने पर