DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तेज आंधी-पानी से चरमरायी बिजली

तेज आंधी-पानी से सोमवार को राजधानी की विद्युत आपूर्ति व्यवस्था चरमरा गयी। राजाबाजार, एक्साइज व वेटनरी फीडर से जुड़े मोहल्लों में अंधेरा पसरा रहा। देर रात तक बिजली आपूर्ति बहाल नहीं होने से स्थानीय लोगों ने आईाीआईएमएस से चंद मीटर की दूरी पर पटना-दानापुर मुख्य मार्ग का जाम कर दिया। यहां पर एक मकान पर स्थित होर्डिग बिजली तार पर गिर गया था। इस दौरान आक्रोशित लोगों ने कुछ वाहनों को भी निशाना बनाया। देर रात तक सड़क जाम रहने से वाहनों की लंबी कतारं लग गईं।ड्ढr ड्ढr नतीजतन लोगों को पैदल ही चलने पर मजबूर होना पड़ा। हालांकि स्थानीय पुलिस वहां मौजूद थी पर लोगों के गुस्से को भांपते हुए मूकदर्शक बनी रही। शेखपुरा मोड़ से हवाई अड्डा जाने वाले मार्ग पर भी वाहनों की लाइन लगी थी। वैसे यात्रियों के साथ कोई अप्रिय घटना न हो जाए इस के लिए पुलिस शेखपुरा मोड़ से ही वाहनों का रुट बदलने में लगे रहे। लोगों का कहना था कि जब तक बिजली नहीं आएगी तब तक सड़क जाम नहीं हटेगा। बहरहाल इस मार्ग पर यातायात व्यवस्था पूरी तरह ठप हो गई। कहीं 11 केवीए तो कहीं 33 केवीए के हाईटेंशन तार के टूटकर गिरने से दर्जनों मुहल्ले अंधेर में डूब गये। कहीं तीन घंटे तो कहीं पांच से छह घंटे तक गुल रही बिजली।ोजाबाजार इलाके में एक मकान के ऊपर होर्डिग गिरने से 33 केवीए के हाइटेंशन तार को दुरुस्त करने में पेसू का पसीना छूट गया। यहां पर पेसू को जिला प्रशासन से अपेक्षित सहयोग नहीं मिला। इस दौरान एक एक वेल्डर वहां पहुंचा लेकिन लोगों के आक्रोश को देखते हुए वहां से भाग खड़ा हुआ। पेसू के महाप्रबंधक राजनाथ सिंह भी देर रात तक यह बता नहीं पा रहे थे कि इन क्षेत्रों में कब तक बिजली आएगी। हालांकि देर रात में होर्डिग को हटाने की प्रक्रिया शुरू हो गई थी। सोमवार को दोपहर बाद आयी आंधी-पानी से कई फीडर ब्रकडाउन कर गए। पेसू ने एहतियातन आंधी शुरू होते ही बिजली काट दी थी। लेकिन बाद में पता चला कि कई जगहों पर बिजली के तारों पर पेड़ गिरने से आपूर्ति बाधित हो गयी है। खगौल-1 फीडर भुसौला में ब्रकडाउन कर गया जिससे पाटलिपुत्र, एएन कालेज व राजापुल फीडर से आपूर्ति ठप पड़ गयी। इधर टेल्कम फीडर भी विकास भवन के पास तार गिर जाने से ब्रकडाउन कर गया। सिविल कोर्ट फीडर, एसके मेमोरियल फीडर,कंकड़बाग,हनुमाननगर फीडर भी ब्रकडाउन कर गया। अधीक्षण अभियंता(पूर्व) अरविंद महाराज ने बताया कि अधिसंख्य जगहों पर दो से तीन घंटे में आपूर्ति सामान्य कर दी गयी। कई जगहों पर 11 केवीए के तार टूट गए थे जिसे दुरुस्त कर लिया गया। पेसू पश्चिम के अधीक्षण अभियंता एसकेपी सिंह ने बताया कि सिंचाई भवन, फुलवारी,पाटलिपुत्र,राजापुल फीडर ब्रकडाउन कर गया जिसे देर शाम तक रिस्टोर कर दिया गया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: तेज आंधी-पानी से चरमरायी बिजली