class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तेल की मूल्य वृद्धि के लिए भारत जिम्मेदार : यूएस

ााद्य पदार्थो की बढ़ती कीमतों के लिए भारत और चीन को जिम्मेदार ठहराने के बाद अब अमेरिका का कहना है कि पेट्रोलियम पदार्थो की बढ़ती कीमतों के लिए भी यही दोनों देश जिम्मेदार हैं। व्हाइट हाउस के एक प्रवक्ता स्काट स्टांजेल ने कहा कि दुनिया भर में तेल की मांग में वृद्धि हो रही है। भारत और चीन जसे विकासशील देशों में तेल की मांग में खासी बढ़ोतरी हुई है जिसका असर तेल की कीमतों पर पड़ा है। ड्ढr राष्ट्रपति बुश के भारतीयों के ज्यादा खाने संबंधी बयानों पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि लोगों के जीवन स्तर में परिवर्तन का खाद्यान्नों से सीधा संबंध होता है। गौरतलब है कि बुश के उक्त बयान के बाद देश भर में रोष की लहर दौड़ गई थी। रक्षा मंत्री एके एंटोनी ने उस बयान को एक क्रूर मजाक करार दिया था। ड्ढr स्टांजेल ने कहा कि अमेरिका की जव-ईंधन परियोजनाओं का खाद्यान्न की कीमतों पर कोई खास असर नहीं पड़ा है। उन्होंने कहा कि हम ये परियोजनाएं इसलिए चला रहे हैं ताकि विदेशी ईंधन पर अपनी निर्भरता कम कर सकें।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘तेल की मूल्य वृद्धि के लिए भारत जिम्मेदार’