अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कच्चा तेल 121 डालर प्रति बैरल पर पहुंचा

ईरान और अमेरिका में तनातनी नाईजीरिया में आतंकवादी हमले एवं हड़ताल और कच्चे तेल की कीमतें 200 डालर प्रति बैरल पर पहुंचने की आशंका के बीच मंगलवावर को अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इसके दाम रिकार्ड 121 प्रति बैरल के नजदीक तक चढ़ गए। अमेरिका में कच्चे तेल की जून की डिलीवरी 120.डालर प्रति बैरल तक चढ़ी और 120.04 डालर प्रति बैरल पर टिक गई। लंदन ब्रेंट भी 1107 डालर प्रति बैरल पर पहुंचने के बाद 118.32 डालर प्रति बैरल रहा। ईरान का अपने परमाणु संयंत्रों का निरीक्षण से इंकार करने और नाइ्रजीरिया में आतंकवादी और तेल कर्मियों की हड़ताल से कच्चे तेल को नई उंचाई मिली है। इस बीच, गोल्डमैन सचस बैंक ने कहा कि आपूर्ति बाधित होने से अगले दो वर्षों में कच्चे तेल की कीमतें 200 डालर प्रति बैरल का आंकड़ा छू सकती है। बैंक ने कहा- उर्जा का संकट आने वाले दिनों में गहरा सकता है क्योंकि इसकी आपूर्ति में बाधा आने की आशंका है। बैंकने कहा है कि अगले छह से 24 महीनों के बीच कच्चे तेल की कीमतें 150 डालर से 200 डालर प्रति बैरल तक बढ़ सकती है। गोल्डमैन के विश्लेषक अजरुन मूर्ति का कहना है कि तेल निर्यातक राष्ट्र संगठन (ओपेक) देशों से आपूर्ति कम रहेगी और गैर ओपेक देशों की मांग बढती रहेगी। इसके अलावा, ओपेक देशों के तेल क्षेत्रों में विदेशी निवेश प्रतिबंधित रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कच्चा तेल 121 डालर प्रति बैरल पर पहुंचा