class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजस्थान के रथ को रोकेगा मुंबई

मुंबई के भाग्य ने एकदम करवट ली है। अब देखना यह है कि राजस्थान के विजय अभियान को भी वह रोक पाएगा या नहीं। दोनों टीमों के बीच आईपीएल का यह मुकाबला डीवाई पाटिल स्टेडियम में बुधवार को खेला जाएगा। होम टीम को लगातार सातवें मैंच में उसके आइकॉन प्लेयर सचिन तेंदुलकर की सेवाएं शायद ही मिल पाएं। सचिन के बिना ही दादा की कोलकाता और वीरू की दिल्ली टीम पर शानदार जीत से मुंबई के हौसले बुलंद हैं। शेन वॉर्न की कोचिंग और कप्तानी में राजस्थान टीम में सबको चौंकाया है। दिल्ली के खिलाफ पहले ही मैच में मिली हार के बाद यह टीम लगातार पांच मैच जीत चुकी है। मुंबई को उनके इस विजय अभियान को रोकने के लिए कुछ को अलग करना होगा। पहला, जो सबसे जरूरी है। मुंबई के बल्लेबाजों को अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में बदलना होगा। जसा कि उसके अनुभवी ओपनर सनत जयसूर्या ने कहा कि 20-20 गेम में टॉप ऑर्डर के कम से कम एक बल्लेबाज को 15 ओवर तक टिकना चाहिए। मैदान पर जयसूर्या और वॉर्न के बीच मुकाबले को देखना रोमांचक होगा। माही की चेन्नई टीम को सौहेल तनवीर ने अपने सनसनीखेज स्पैल से चौंका दिया था। तनवीर ने इस मैच में 14 रन देकर छह विकेट ले आईपीएल का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया था। इसके साथ ही वॉर्न के टीम में मुनाफ पटेल और सिद्धार्थ त्रिवेदी भी अच्छे गेंदबाज हैं। डीवाई पाटिल स्टेडियम पर संभवत: यह सीजन का अंतिम मैच हो। इसलिए क्रिकेटप्रेमी जयसूर्या और वॉर्न का रोमांचक संघर्ष देखने को बेताब होंगे। उथप्पा से इस टूर्नामेंट में काफी उम्मीदें थीं। अब तक तो वह लगभग फेल ही रहे हैं। देखते हैं इस मैच में उनका बल्ला क्या गुल खिलाता है। हां, वॉर्न और सचिन के बीच संघर्ष शायद ही क्रिकेटप्रेमियों को देखने को मिले। टेस्ट मैचों में सचिन ने वॉर्न की इतनी धुनाई की है कि वह वॉर्न को सपनों तक में दिखाई देते हैं। मुंबई की टीम को गेंदबाजी में शॉन पोलॉक पर सबसे ज्यादा उम्मीदें हैं। उन पर दक्षिण अफ्रीकी कप्तान ग्रीम स्मिथ और ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर जसे स्टारों से सजी बैटिंग लाइन-अप के खिलाफ शानदार प्रदर्शन का दबाव होगा। पिछले दो मैचों में मुंबई की फील्डिंग बेहतरीन रही थी अगर एसा ही प्रदर्शन उसके खिलाड़ी इस मैच में भी कर सके तो वॉर्न की टीम पर दबाव बना सकते हैं। वॉर्न के नेतृत्व में गोवा के स्वप्निल असनोदकर, सौराष्ट्र के रविन्दर जडेाा और मुंबई के दिनेश सालुंके जसे घरलू क्रिकेटर अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों के साथ खेलते-खेलते इन खिलाड़ियों का विश्वास काफी बढ़ा है। मेहमान टीम अगर जीतने में सफल रही तो वह सेमीफाइनल में पहुंचने के काफी करीब पहुंच जाएगी जबकि मुंबई जीती तो वह सेमीफाइनल की ओर एक कदम और बढ़ा देगी। तेंदुलकर के 14 मई को किंग खान की टीम के खिलाफ होने वाले अगले मैच में खेलने की संभावना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजस्थान के रथ को रोकेगा मुंबई