अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसान का बेटा बना प्रशासनिक अधिकारीसंवाददाता रांची?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग

ग्रामीण परिवेश से ताल्लुक रखने वाले बैद्यनाथ उरांव मोहित ने द्वितीय जेपीएससी की परीक्षा में सफलता हासिल की है। यह उनका दूसरा प्रयास था। बैद्यनाथ ने बताया कि पिता की सीमित आय के कारण पढ़ाई में कई बाधाएं आयीं। लेकिन प्रशासनिक सेवा में जाने के जज्बा काम आया। उन्होंने बताया कि मुख्य परीक्षा में उनका विषय मानव विज्ञान और श्रम एवं समाज कल्याण था। इन विषयों के लिए उन्होंने सिलेबस को आधार बनाकर चयनित अध्ययन किया। तैयारी के दौरान स्टूडेंट्स सर्किल के निदेशक अरविंद लाल से मार्ग दर्शन लिया, जो काफी काम आया। तैयारी में जुटे छात्रों को संदेश देते हुए वे कहते हैं कि सच्ची लगन, कड़ी मेहनत और स्वयं पर विश्वास रखकर तैयारी करं। सफलता निश्चित रूप से मिलेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: किसान का बेटा बना प्रशासनिक अधिकारीसंवाददाता रांची?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग