अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘वी-वैस’ उपकरण से दूर हो सकती घुटने की तकलीफ

अमेरिका के अथोर्टिक एवं प्रोस्थेटिक्स विशेषज्ञ जोसेफ डब्ल्यू व्हाइटसिड ने बताया कि सभी प्रकार के घुटने की खराबी में ऑपरशन संभव नहीं है। इसके लिए विशेष प्रकार की बनायी गयी ‘वी-वैस’ उपकरण से घुटने पर पड़नेवाले दबाव को मुक्त कर दिया जाता है। इससे मरीज को दर्द नहीं होता और वह सामान्य जीवन गुजार सकता है। व्हाइटसिड मंगलवार को आईएसपीओ द्वारा आयोजित ‘घुटने के दर्द प्रबंधन’ पर व्याख्यान दे रहे थे। उन्होंने बताया कि सही प्रकार के जूते के प्रयोग नहीं करने से घुटने के दर्द की शिकायत होती है। इसके अलावा शरीर का अधिक वजन का असर भी घुटने पर पड़ता है। खराब सड़कों पर चलनेवाले व्यक्ितयों में भी घुटने और कमर दर्द की शिकायत पायी जाती है।ड्ढr ड्ढr उन्होंने बताया कि वैज्ञानिक और आर्थिक कारणों से सभी मरीजों के घुटने का ऑपरशन नहीं किया जा सकता। कुछ मरीज ऐसे होते हैं जिनका ऑपरशन करना किसी भी सर्जन के लिए असंभव होता है। ऐसे ही अधिकांश मरीज घुटने का ऑपरशन कराना नहीं चाहते। इसके लिए वे वैकल्पिक व्यवस्था चाहते हैं। घुटने के दर्द से निजात के लिए बनाए गए ‘वी-वैस’ उपकरण से घुटने पर पड़नेवाले दबाव को रिलीज कर दिया जाता है जिससे मरीज को राहत मिलती है। इस मौके पर आईएसपीओ के चेयरमैन विनोद भांटी ने बताया कि गलत ढंग से बैठने के कारण भी घुटने और कमर दर्द की शिकायत होती है। खिलाड़ियों में भी इसकी शिकायत पायी जाती है।ड्ढr ड्ढr इस प्रकार की तकलीफ को आधुनिक उपकरणों और खास प्रकार के बनाए गए जूते से लाभ मिलता है। कार्यक्रम की अध्यक्षता पीएमसीएच के हड्डी रोग विभागाध्यक्ष डा.अजरुन सिंह व पीएमआर विभागाध्यक्ष डा.अजीत कुमार वर्मा ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘वी-वैस’ उपकरण से दूर हो सकती घुटने की तकलीफ