class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहरी विकास योजना को मंजूरी

मंत्रिमंडल ने मंगलवार को मुख्यमंत्री समेकित शहरी विकास योजना को अपनी मंजूरी दे दी। इस योजना को लागू करने के लिए राज्य सरकार ने एक अरब रुपये दिए हैं। इस योजना के तहत शहरों में सड़क, ड्रेनेज सिस्टम, पार्क और डिवाइडर आदि का विकास किया जाएगा। इस योजना के लिए एक जिलास्तरीय संचालन समिति बनाई जाएगी जिसके अध्यक्ष बीस सूत्री के प्रभारी मंत्री होंगे। समिति के सदस्य उस जिले के विधायक और विधान पार्षद भी होंगे।ड्ढr ड्ढr मंत्रिमंडल की बैठक की जानकारी देते हुए कैबिनेट सचिव गिरीश शंकर ने बताया कि इसके एक अन्य महत्वपूर्ण फैसले के तहत बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से प्रथम श्रेणी में मैट्रिक पास करने वाले अल्पसंख्यक छात्र को 10 हाार रुपया प्रोत्साहन भत्ता दिया जाएगा। यह नियम 2007 की परीक्षा के नतीजों से ही लागू हो जाएगा। इसके लिए अभी राज्य सरकार ने दो करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। इसके साथ मंत्रिमंडल ने 531 पंचायत सेवकों के पद पर दलपतियों की नियुक्ित को हरी झंडी दे दी है। चूंकि पंचायत सेवक अब अस्तित्व में नहीं रह गए हैं इसलिए नियुक्ित के बाद ये लोग ग्राम पंचायत सचिव के पद पर काम करंगे। इसके बाद पंचायत सेवक के पद पर दलपतियों की बहाली नहीं होगी। केन्द्र प्रायोजित समेकित अल्प लागत स्वच्छता योजना के तहत शौचालयों के निर्माण के लिए लाभान्वितों से 10 प्रतिशत का अंशदान उनके श्रम के रूप में लिया जाएगा। इसके लिए उन्हें हाार रुपये का अनुदान मिलेगा और 1 हाार रुपये के एवज में लाभान्वित अपना श्रमदान करंगे। यह योजना आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गो के लिए है। साथ ही गरीबी रखा से नीचे के परिवार के सदस्यों को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों से लेकर मेडिकल कालेज अस्पतालों तक में अब किसी तरह का शुल्क नहीं लगेगा।ड्ढr ड्ढr कई अस्पतालों में कुछ सुविधाएं आउटसोर्सिग के माध्यम से दी गई हैं जिनके लिए शुल्क देना पड़ता है। इन सुविधाओं के लिए भी बीपीएल परिवारों को कोई शुल्क नहीं देना होगा। इसका भुगतान रोगी कल्याण समिति के माध्यम से राज्य सरकार करगी। मंत्रिमंडल ने तय किया है कि मछली अंगुलिकाओं (फिंगर लिंग्स) की खेती को बढ़ावा देने के लिए किसानों को ब्याजमुक्त र्का दिया जाएगा। ये फिंगर लिंग्स अनुदानित दर पर मत्स्यपालकों को दिये जाएंगे। राज्य सरकार ने जमींदारी बांधों की मरम्मत और रख-रखाव का काम जल संसाधन विभाग को दिया है और अब इस पर 433.51 करोड़ रुपये खर्च होंगे।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शहरी विकास योजना को मंजूरी