अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गार्ड ने लगाया डीएसपी को 50 हजार का चूना

एटीएम केन्द्रों पर प्रतिनियुक्त प्राइवेट सुरक्षाकर्मी कितने भरोसेमंद होते हैं इसका उदाहरण मिला बीएमपी -14 के डीएसपी ललन सिंह को। पटना जंक्शन स्थित एसबीआई एटीएम में तैनात एसआईएस के गार्ड जीतेन्द्र शर्मा ने रुपए निकालने गए डीएसपी का कार्ड धोखे से बदल दिया और बाद में उस कार्ड से 25-25 हजार कर दो बार में पचास हजार रुपए निकाल लिए। डीएसपी की शिकायत पर जीआरपी ने उक्त गार्ड को गिरफ्तार कर लिया जिसकी जेब से उनकी एटीएम कार्ड और 5200 रुपए बरामद हुए, पर बाकी रुपए अब तक बरामद नहीं हो पाए हैं।ड्ढr ड्ढr पुलिस सूत्रों के अनुसार सेक्टर-सी (पुलिस कॉलोनी) निवासी डीएसपी ललन सिंह पत्नी के साथ 3 मई की रात अपनी पुत्री पूजा व दामाद कृष्ण मुरारी को मुंबई की ट्रन पर बैठाने गए थे। पुत्री को देने के लिए उन्होंने पटना जंक्शन स्थित एसबीआई के एटीएम से पांच हजार रुपए निकालने चाहे। कई बार प्रयास के बाद भी जब रुपए नहीं निकले तो उन्होंने वहां मौजूद एसआईएस के गार्ड जीतेन्द्र शर्मा से मदद मांगी।ड्ढr ड्ढr उनकी मदद के दौरान ही जीतेन्द्र ने उनका गोपनीय पीन नंबर देख लिया। मशीन से कार्ड निकालने के दौरान ही वह उनका कार्ड रख एसबीआई का ही एक दूसरा एटीएम कार्ड दे दिया। जल्दबाजी में वह उसे नहीं देख सके। सोमवार को जब उन्होंने उस कार्ड से रुपए निकालने चाहे तो पता चला कि वह कार्ड उनका है ही नहीं बल्कि डीआरएम ऑफिस में कार्यरत किसी व्यक्ित का है। उन्होंने तुरंत इसकी सूचना एसबीआई मुख्य ब्रांच को देते हुए अपना एकाउंट ब्लॉक कराने का आग्रह किया, पर इस बीच उनके खाते से 50 हजार निकाले जा चुके थे। शक होने पर उन्होंने जीआरपी मे इसकी शिकायत दर्ज करायी जिस आधार पर गार्ड जीतेन्द्र को गिरफ्तार कर लिया गया। तलाशी लेने पर उसके पास से डीएसपी के एटीएम कार्ड को बरामद किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गार्ड ने लगाया डीएसपी को 50 हजार का चूना